Friday, January 21, 2022
HomeEducationनियम 134ए : प्राइवेट स्कूलों के सामने बौना साबित हो रहा शासन...

नियम 134ए : प्राइवेट स्कूलों के सामने बौना साबित हो रहा शासन -प्रशासन

नियम 134ए के तहत गरीब बच्चों का प्राइवेट स्कूलों में एडमिशन कराने की प्रकिया सरकार के लिए बड़ी चुनौती बनी हुई है. वो इसलिए कि हरियाणा प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने दो टूक सरकार को कहा हुआ है कि जबतक मांगे नहीं मानी जाती वो नियम 134ए के तहत एडिमशन नहीं करेंगे. सरकार और प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन की इस लड़ाई में गरीब बच्चों को धक्के खाने पड़ रहे है. हालात ये है कि रेवाड़ी में 28 दिनों से धरना प्रदर्शन कर रहे बच्चों को तारीखें तो मिल रही है. लेकिन स्कूल में एडमिशन नहीं मिल रहा है.

 

आज मकर सक्रांति के त्यौहार के पर्व पर भी बच्चे और उनके अभिभावक धरना प्रदर्शन करने जिला सचिवालय पहुंचे. जहाँ बच्चों ने हाथों में झाड़ू लेकर सफाई करके विरोध दर्ज कराया. बच्चों और अभिभावकों ने कहा कि वो ऐसा इसलिए कर रहे है ताकि सरकार को पता चले कि अगर बच्चों का स्कूल में एडमिशन नहीं हुआ तो बच्चों का भविष्य कुछ ऐसा ही हो जाएगा. एडवोकेट कैलाशचंद जो इन बच्चों की लड़ाई लड़ रहे है. उनका कहना है कि अधिकाँश स्कूल राजनेताओं के है इसलिए मनमानी करने वाले प्राइवेट स्कूलों पर कार्रवाई भी नहीं की जा रही है.

आपको बता दें कि  रेवाड़ी जिले में 2150 बच्चों की लिस्ट जारी हुई थी, जिनके विभिन्न कक्षाओं में एडमिशन होने थे, लेकिन अब तक इस लिस्ट में से केवल 376 ही बच्चों के कागजात पोर्टल पर अपलोड हुए हैं। हांलाकि विभाग ने मौखिक तौर पर 523 बच्चों के दाखिले होना बताया है.  दाखिले न होने से खफा होकर अभिभावकों की ओर से लगातार जिला सचिवालय में धरना-प्रदर्शन भी कर रहे है। बच्चों ने पाठशाला लगाकर पढ़ाई भी की,  और आज झाड़ू लगाकर विरोध प्रदर्शन किया. लेकिन अधिकारीयों की तरफ से केवल आश्वाशन ही दिया जा रहा है.

 

नियम 134ए के तहत एडमिशन के लिए सबसे पहले 24 दिसंबर 2021 तारीख तय की गई थी. फिर 31 दिसंबर, 7 जनवरी 2022 तारीख तय की गई. लेकिन शासन प्रशासन गरीब बच्चों का एडमिशन स्कूलों में नहीं करा पाया.  अब 15 जनवरी एडमिशन की अंतिम तारीख तय की हुई है. लेकिन एडमिशन अभी भी सभी बच्चों के नहीं कराये जा सकें है. हालांकि अब जिला शिक्षा विभाग उच्च अधिकारियों के आदेशानुसार जिले के 114 स्कूलों को शो कॉज नोटिस जारी किया गया है। इसमें सबसे ज्यादा रेवाड़ी खंड के निजी स्कूल शामिल हैं। इन स्कूलों ने अब तक एक भी एडमिशन नहीं किया है।

 

कुछ दिन पहले शिक्षा विभाग कार्यालय में धरना प्रदर्शन करते बच्चे और अभिभावक

दाखिला न करने वाले स्कूलों को जारी किए शो कॉज नोटिस

जिन स्कूलों ने अब तक एक भी दाखिला नहीं किया है, ऐसे जिला के 114 स्कूलों को विभाग के उच्च अधिकारियों के आदेशानुसार शो कॉज नोटिस जारी गया है। इन स्कूलों से एडमिशन न करने का कारण मांगा गया है। स्कूलों को तीन दिन के अंदर नोटिस का जवाब देना होगा। विभाग के एडिशनल चीफ सेक्रेट्री की ओर से 134ए के संबंध में वीडियो कांफ्रेंस बुलाई थी। जिसमें दिए गए आदेशों के अनुसार ही ये नोटिस दिए गए हैं। इससे पहले कई बार स्कूलों को दाखिला करने के निर्देश दिए जा चुके हैं। -कपिल पूनिया, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी, रेवाड़ी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments