Home राष्ट्रीय Kanina School Bus Accident : शराबी ड्राइवर ने ली 6 मासूम बच्चों...

Kanina School Bus Accident : शराबी ड्राइवर ने ली 6 मासूम बच्चों की जान, हादसे को रोका जा सकता था !

171
0
kanina school bus accident

Kanina School Bus Accident: महेंद्रगढ़ जिले के कनीना में आज सुबह हुए स्कूल बस हादसे में 6 बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई. जबकि 15 से ज्यादा बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए.  घटना की सूचना मिलने के बाद शिक्षा मंत्री सीमा त्रिखा रेवाड़ी और महेंद्रगढ़ पहुंची. शिक्षा मंत्री ने कहा कि इसमें सबसे बड़ी लापरवाही तो यही है कि छुट्टी के दिन स्कूल क्यों खोला गया.  उन्होंने कहा कि इस मामले में बस चालक के साथ-साथ स्कूल प्रिंसिपल और संचालक के खिलाफ भी केस दर्ज किया जायेगा.

 

ये हादसा कैसे हुआ ! क्या हादसे को रोका जा सकता था !  और इस पूरे मामले में किसकी लापरवाही रही ये जानने के लिए हम घटना स्थल पर पहुँचे और प्रत्यक्षदर्शियों से बातचीत की। जहाँ बताया गया कि जिस जगह हादसा हुआ है। उससे पहले वाले गाँव में ग्रामीणों ने बस को रोककर चाबी छीन ली थी। क्योंकि बस चालक ने शराब का सेवन किया हुआ था। लेकिन यहाँ ग्रामीण को फोन पर स्कूल की तरफ से भरोसा दिलाया गया कि वे इस ड्राईवर को हटा देंगे। फिलहाल बस चालक को चाबी दे दें।

 

जिसके बाद ड्राईवर बस को लेकर वहाँ से निकल गया, और कुछ दूर आने के बाद उन्हाणी गाँव के पास तेज रफ्तार बस का संतुलन बिगड़ गया। और बस पेड़ से टकरा गई।  कनीना से धनौंदा जाने वाले रोड़ पर कन्या महाविद्यालय के पास मोड़ पर तेज रफ्तार बस को ड्राईवर संभाल नहीं पाया और पास पेड़ से टकरा गई। घटना स्थल की वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुई। जिसने इन वीडियो को देखा वो सहम गया।

 

हादसे की इस खबर से हर कोई हैरान है कि आखिरकार कोई कैसे मासूम बच्चों की ज़िंदगी को लेकर इतना लापरवाह हो सकता है।आपको बता दें कि कनीना का जीएलपी स्कूल आज छुट्टी होने के बावजूद खुला हुआ था। स्कूल की बस का ड्राईवर अलग –अलग गांवों के 37 बच्चों को बस में लेकर स्कूल आ रहा था। लेकिन शायद ये किसी को नहीं पता था कि आज इस बस का इतना भयंकर हादसा हो जायेगा।

जिन ग्रामीणों ने शराबी ड्राईवर से बस की चाबी छीन ली थी, वो अभी अफसोस कर रहे होंगे कि खास कि वे चाबी शराबी ड्राईवर को नहीं देते और मासूम बच्चों को जान बच जाती। इस घटना की सूचना जैसे ही फैली, ऐसे ही शिक्षा मंत्री सीमा त्रिखा रेवाड़ी और महेंद्रगढ़ पहुँची। जहाँ घायल बच्चों का हाल जानने के साथ-साथ मृतक बच्चों के परिजनों को भी सांत्वना दी गई।

 

रेवाड़ी के निजी अस्पताल में घायल बच्चों का हाल जानने के बाद शिक्षा मंत्री ने पत्रकारो से बातचीत करते हुये कहा कि बस ड्राईवर के अलावा स्कूल प्रिंसिपल और संचालक के खिलाफ भी केस दर्ज किया जायेगा। इस घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट करके दुख व्यक्त कर परिवार के लोगों को सांत्वना दी है। इसके अलावा प्रदेश सरकार के मंत्री, स्थानीय जनप्रतिनिधि घायलों का हाल जानने अस्पताल पहुँच रहे है। हर कोई कह रहा है की दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

 

महेद्रगढ़ जिला उपायुक्त ने कहा कि बस चालक और स्कूल संचालक के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। स्कूल मान्यता रद्द करने के लिए सबन्धित विभाग को लिखा गया है। स्कूल बस फिटनेस सबन्धित और भी खामियाँ पाई गई है। जिनके आधार पर आगमी कार्रवाई की जा रही है।