बिज़नेसरेवाड़ी

सरकार बीपीएल परिवारों की आय बढ़ाने के लिए दे रही 29 पोल्ट्री यूनिट व 50-50 चूजे

बीपीएल श्रेणी के पशुपालकों की आय बढ़ाने के लिए पशुपालन एवं डेयरी विभाग की ओर से डीसी अशोक कुमार गर्ग के मार्गदर्शन में बीपीएल श्रेणी के लाभार्थियों को 29 पोल्ट्री यूनिट व 50-50 चूजे वितरित किए गए।

उपनिदेशक पशुपालन एवं डेयरी डा. भूप सिंह यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि सरकार बीपीएल परिवारों की आय बढ़ाने के लिए कृतसंकल्प है, जिसके लिए सरकार की ओर से अनेक योजनाएं क्रियान्वित की जा रही हैं। उन्होंने बताया कि लाभार्थियों को राजकीय हैचरी फार्म हिसार से प्राप्त 50-50 चूजे भी निशुल्क वितरित किए गए। इनके साथ प्रत्येक परिवार को दो-दो वाटर ड्रिंकर व फीडर भी निशुल्क प्रदान किए गए। योजना को शुरू करने में परिवार का कोई खर्चा नहीं होता है इन चूजों को कृषि अवशेष व घर के बचे हुए खाने व दाने पर पाला जा सकता है व इनकी खाने की जरूरत पूरी की जा सकती है.

डा. भूप सिंह यादव ने बताया कि मुर्गीपालन गतिविधियों के माध्यम से इस क्षेत्र में रोजगार के अवसर पैदा होने की संभावना को बढ़ावा मिलेगा। हरियाणा सरकार की यह एक ऐसी योजना है जिसमें गरीब व्यक्ति जिसके पास बड़े पशु रखने का संसाधन नहीं है और ना ही बैंक से ऋण ले सकता है, इस तरह की यूनिट स्थापित होने से उनके लिए स्वरोजगार के अवसर बढ़ेंगे।

इस योजना के तहत गरीब परिवार का सदस्य एक से बड़ा व्यवसाय शुरू कर सकता है। उन्होंने बताया कि छोटे बैकयार्ड पोल्ट्री फार्म के चूजे बड़े होकर व अंडे स्थानीय बाजार में अच्छे दामों पर बिकते हैं। निसंदेह सरकार द्वारा गरीब परिवारों के उत्थान व आय बढ़ाने की दिशा में उठाया गया यह सराहनीय कदम है।

Back to top button