मंडी पहुँचे मंत्री डॉ बनवारी लाल के सामने किसानों ने रखी समस्या

एक अक्टूबर से प्रदेश की अनाज मंडियों में बाजरे की सरकारी की खरीद की जा रही है . और सरकार के मंत्री मंत्रियों का जायजा लेने पहुँच रहें है . रेवाड़ी अनाज मंडी में आज सहकारिता मंत्री डॉ बनवारी लाल किसानों की समस्याएं जानने पहुँचे .. जहाँ उन्होंने खरीद प्रक्रिया का जायजा लेकर कुछ किसानों से बातचीत भी की ..
 मंडी पहुंचे मंत्री डॉ बनवारी लाल ने मीडिया से बातचीत करते हुए विपक्ष को जवाब भी दिया .. उन्होंने कहा की विपक्ष ये झूठ फैला रहा था की नया कृषि बिल आने से एमएसपी ख़त्म हो जायेगा लेकिन सरकार एमएसपी पर बाजरे की खरीद कर रही है .जो विपक्ष को करार जवाब है . उन्होंने कहा की विपक्ष को अपनी जमीन खिसकती नजर आ रही है इसलिए बेबुनियाद मुद्दों पर जनता को गुमराह किया जा रहा है .
आपको बता दे की अनाज मंडी में की जा रही बाजरे की खरीद में किसानों को कुछ दिक्कत जरुर आ रही है . जिसमें सबसे बड़ी समस्या से है की ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से मिलने वाले मैसेज में प्रति किसान का बाजरा खरीद ज्यादा दिखाई जा रही है लेकिन मंडी में पहुँचे पर पता चलता है की कम बाजार ख़रीदा जायेगा .जिसपर मंत्री डॉ बनवारी लाल ने कहा की ये तकनिकी दिक्कत है, जो शाम तक ठीक करा दी जायेगी.
अनाज मंडी में केवल उन्ही किसानों का बाजरा ख़रीदा जा रहा है . जिसने मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर पंजीकरण करवाया हुआ था . और किस दिन किस किसान की बाजरे की खरीद की जायेगी . उस किसान को एक दिन पहले मोबाइल फोन पर मैसेज करके सुचना दी जा रही है . जिले रेवाड़ी , बावल और कोसली अनाज मंडी में प्रतिदिन करीबन दो सौ किसानों को बुलाया जा रहा है . और 45 हजार से ज्यादा किसानों ने पंजीकरण कराया हुआ है. इतीनी धीमी  गति से खरीद की जायेगी तो सभी किसानों की बाजरे की उपज कितने वक्त में खरीद हो पाएगी आप समझ सकते है . बाजरे की खरीद प्रति एकड़ 8 किवंटल और प्रति किसान 40 किवंटल से ज्यादा बाजरे की खरीद नहीं की जा रही है .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: