खेलराष्ट्रीय

CWG 2022: कॉमनवेल्थ गेम्स में महिलाओं ने दिखाया दमखम, भारत ने अब तक जीते कुल 42 पदक

दसवें दिन भारतीय बॉक्सर नीतू गंगस ने महिलाओं की 48 किग्रा वर्ग में स्वर्ण पदक जीता। वहीं भारतीय महिला टीम ने हॉकी में कांस्य पदक जीत लिया है। 10वें दिन कई खिलाड़ी फाइनल में हैं, जो मेडल के लिए दावेदारी करेंगे।

कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय खिलाड़ियों का जोश हाई है और देश के नाम हर रोज मेडल की बारिश हो रही है। दसवें दिन भारतीय बॉक्सर नीतू गंगस ने महिलाओं की 48 किग्रा वर्ग में स्वर्ण पदक जीता। वहीं भारतीय महिला टीम ने हॉकी में कांस्य पदक जीत लिया है। 10वें दिन कई खिलाड़ी फाइनल में हैं, जो मेडल के लिए दावेदारी करेंगे। खबर लिखे जानें तक भारत ने अब तक कुल 42 पदक जीते हैं, जिनमें 14 स्वर्ण, 11 रजत और 17 कांस्य पदक शामिल हैं।

 

इससे पहले नौवें दिन भारत के लिए स्वर्णिम दिन रहा, जहां पहलवानों ने अपना वर्चस्व स्थापित किया और तीन स्वर्ण व तीन कांस्य पदक जीते। वहीं पैरा टेबल टेनिस में भाविना पटेल ने भी स्वर्ण जीता, तो एथलेटिक्स में 2 रजत पदक आए, जबकि लॉन बाउल्स में भारतीय चार खिलाड़ियों वाले पुरूष टीम ने रजत पदक जीता।

 

मुक्केबाजी में तीन मुक्केबाजों ने कांस्य पदक जीता, तो चार ने फाइनल में प्रवेश कर भारतीय टीम के लिए पदक पक्के किये। इसके अलावा भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने सेमीफाइनल में इंग्लैंड को 4 रन से हराकर फाइनल में प्रवेश किया।

 

पैरा टेबल टेनिस में भाविना को स्वर्ण

पैरा टेबल टेनिस में भाविना हसमुखभाई पटेल ने स्वर्ण जीत लिया है। उन्होंने फाइनल में नाइजीरिया की इफेचुकवुदे क्रिस्टियाना को लगातार तीन गेमों में 12-10, 11-2, 11-9 से हरा दिया।

 

कुश्ती में अब तक 12 पहलवानों ने जीते पदक

नौवें दिन कुश्ती में भारतीय पहलवानों का वर्चस्व रहा, जहां भारत ने छह पदक जीते। विनेश फोगाट, रवि दहिया और नवीन ने स्वर्ण पदक जीता, तो पूजा सिहाग, पूजा गहलोत और दीपक नेहरा ने कांस्य पदक जीता। इस तरह कुश्ती में भारत को कुल 12 पदक मिले। इससे पहले शुक्रवार को दीपक पूनिया, बजरंग पूनिया और साक्षी मलिक को स्वर्ण पदक मिला था। अंशु मलिक को रजत से संतोष करना पड़ा था। वहीं, दिव्या काकरन और मोहित ग्रेवाल ने कांस्य पदक जीता था।

 

एथलेटिक्स में भारत को मिले दो पदक

एथलेटिक्स में भारत के लिए शनिवार का दिन काफी अच्छा रहा। प्रियंका गोस्वामी ने 10,000 मीटर रेस वॉक फ़ाइनल में रजत पदक जीता, तो वहीं,अविनाश साबले ने पुरुषों की 3000 मीटर स्टीपलचेज में रजत पदक जीता। उनसे पहले मुरली श्रीशंकर (लंबी कूद में रजत) और तेजस्विन शंकर (ऊंची कूद में कांस्य) ने ट्रैक और फील्ड में भारत के लिए पदक जीते हैं।

 

वहीं, अविनाश ने 3000 मीटर स्टीपलचेज स्पर्धा में राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाते हुए रजत पदक जीता। अविनाश ने अपनी रेस 8.11.20 मिनट में खत्म की। इसके साथ ही उन्होंने तीन हजार मीटर रेस में नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया। वो स्वर्ण पदक जीतने वाले अब्राहम किबिवॉट से सिर्फ 0.5 सेकेंड पीछे रहे।

 

लॉन बॉल में पुरुष टीम ने रजत पदक जीता

लॉन बॉल में पुरुष टीम (चार खिलाड़ी) को फाइनल में उत्तरी आयरलैंड के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा है। इसके साथ ही भारतीय टीम को रजत पदक के साथ संतोष करना पड़ा है। भारत के लिए सुनील बहादुर, नवनीत सिंह, चंदन कुमार सिंह और दिनेश कुमार की जोड़ी ने कमाल किया है।

 

भारतीय मुक्केबाजों ने दिखाया दम, जीते तीन कांस्य

भारतीय मुक्केबाज जैस्मीन लैंबोरिया, मोहम्मद हुसामुद्दीन और रोहित टोकस ने अपने सीडब्ल्यूजी 2022 अभियानों का समापन कांस्य पदक के साथ किया।

 

फाइनल में भारतीय पुरुष हॉकी टीम

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने शनिवार देर रात बर्मिंघम में सेमीफाइनल मैच में दक्षिण अफ्रीका को 3-2 से हराकर राष्ट्रमंडल खेल 2022 के फाइनल में प्रवेश किया। भारतीय टीम 8 अगस्त को फाइनल मुकाबला खेलेगी।

Show More
Back to top button