राष्ट्रीय

आजादी का अमृत महोत्सव के तहत बाल भवन में हुआ सांस्कृतिक संध्या का आयोजन

आजादी का अमृत महोत्सव के तहत बाल भवन में हुआ सांस्कृतिक संध्या का आयोजन

रेवाड़ी, 29 अगस्त: आजादी का अमृत महोत्सव एवं हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद की 50वीं वर्षगांठ के अवसर पर जिला प्रशासन द्वारा हरियाणा कला परिषद एवं जिला बाल कल्याण परिषद रेवाड़ी के सहयोग से बाल भवन रेवाड़ी में गतदिवस सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया। सांस्कृतिक संध्या में संयुक्त सचिव कानून एवं न्याय मंत्रालय भारत सरकार डा. अंजू राठी राणा ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की और सांस्कृतिक संध्या का दीप प्रज्जवलित कर विधिवत शुभारंभ किया।

संयुक्त सचिव डा. अंजू राठी राणा ने सांस्कृतिक संध्या में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि हमारे भारत देश को आजाद हुए 75 वर्ष हो गए हैं। उसी उपलक्ष्य में हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं। यह आजादी हमें वीर सैनिकों, महान क्रांतिकारी योद्घाओं, स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान से मिली है, जिसकी बदौलत आज हम आजादी की खुली हवा में चैन की सांस ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन ने यह आयोजन करवाकर बहुत ही सराहनीय कार्य किया है। हरियाणा कला परिषद एवं जिला बाल कल्याण परिषद रेवाड़ी भी इसके लिए बधाई की पात्र हैं।

डा. अंजू राठी राणा ने कहा कि हरियाणा बाल कल्याण परिषद सन् 1971 में अस्तित्व में आई जो लावारिस, बेसहारा बच्चों के कल्याण एवं उत्थान के लिए कार्यरत्त है। परिषद बच्चों को गौद देने का कार्य भी कर रही है और परिषद द्वारा अब तक देश-विदेश में पांच सौ से अधिक बच्चों को गौद दिया जा चुका है। जिला इकाई रेवाड़ी उपायुक्त यशेन्द्र सिंह के मार्गदर्शन एवं नेतृत्व में आस्था कुंज, विशिष्ठï दत्तक एजेंसी, ग्रहण एजेंसी, खुला आश्रय गृह, बाल गृह, डिजिटल लाईब्रेरी, नशा मुक्ति केन्द्र, कौशल विकास केन्द्र व कम्प्यूटर प्रशिक्षण केन्द्र चला कर सराहनीय कार्य कर रही है।

सांस्कृतिक संध्या में कलाकारों ने ऐसा धमाल मचाया कि दर्शक भी खुद को नहीं रोक पाए और थिरकते नजर आए। कलाकारों ने एक से बढ़कर एक रंगारंग प्रस्तुति देकर सबका मन मोह लिया और सांस्कृकि संध्या में समा बांध दिया। बालभवन का ओपन थियेटर दर्शकों की तालियों व किलकारियों से गूंजता रहा।

सांस्कृतिक संध्या में संदीप यादव एंड ग्रुप तू राजा की राज दुलारी समूह नृत्य पेश कर खूब तालियां व वाह-वाही लूटी। इसके उपरांत मदन कुमार ने श्री कृष्ण भजन, अमित इसराना व योगेश ने देशभक्ति रागनी, समूह नृत्य जीजा तू काला मैं गौर घनी व कांची इमली, पूनम ने लोक गीत मैं नई नवेली आई, रुहानी ने सोलो डांस, अमित व शाूल ने लोक नृत्य, योगेश ने रागनी लाख टके का बिजना, अंशिका ने लोक नृत्य, अमित मलिक ने रागनी चारो और बाग हरा-भरा, घनघौर घटा सामनण की, गिरिशा व ईशानवी ने हरियाणवी नृत्य, मान्यता दास व पूर्वा ने क्लासिकल नृत्य, खूशबू, आरोग्य नामदेव व इशाानी ने मनोहारी डांस प्रस्तुत कर सांस्कृतिक संध्या में समा बांध दिया और दर्शकों की खूब वाहवाही व तालियां बटौरीं। संयुक्त सचिव डा. अंजू राठी राणा ने प्रतिभागी कलाकारों द्वारा दी गई प्रस्तुतियों की मुक्तकंठ से प्रशंसा की और उन्हें पुरस्कृत भी किया

Show More
Back to top button