Nuh incident: रेवाड़ी डीसी ने आमजन से की कानून व शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील, सोशल मीडिया पर न डालें आपत्तिजनक व भड़काऊ पोस्ट

0
1
independence day

Nuh incident: रेवाड़ी डीसी ने कहा कि जिला नूंह में दो समुदायों के बीच हुए साम्प्रदायिक तनाव को देखते हुए रेवाड़ी जिला प्रशासन सतर्क है और लगातार अलर्ट मोड पर है। किसी भी व्यक्ति को शांति एवं कानून व्यवस्था को भंग नहीं करने दिया जाएगा और प्रशासन उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई करने से भी पीछे नहीं हटेगा। उन्होंने कहा कि सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश करने वाले असामाजिक तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Nuh incident के कारण रेवाड़ी पुलिस प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद

रेवाड़ी डीसी इमरान रजा ने कहा कि पुलिस प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद है और जिला प्रशासन की ओर से भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए पूरी तैयारियां की हुई हैं। प्रशासन की ओर से आगामी आदेशों तक जिला में धारा 144 लागू की हुई है। साथ ही किसी भी अप्रिय घटना को रोकने क लिए ड्यूटी मजिस्ट्रेट भी नियुक्त किए गए हैं। उन्होंने अपील की कि कोई भी व्यक्ति सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर किसी प्रकार की भी कोई गलत अफवाह न फैलाए।

https://www.facebook.com/watch/?v=1228658721423287

अगर कोई भी सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाएगा या फिर किसी किसी के धर्म या जाति पर कोई गलत टिप्पणी करेगा तो उस पर पुलिस सख्त एक्शन लेगी चूंकि पुलिस प्रशासन की सोशल मीडिया पर होने वाली हर गतिविधि पर पारखी नजर है। उन्होंने सभी संप्रदाय के लोगों से अपील की कि समाज में आपसी भाईचारा बनाकर रखें और किसी भी अफवाह पर ध्यान न दें।

आपातकालीन स्थिति में डायल 112

उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया का प्रयोग सहयोग, आपसी भाईचारे व सौहार्द को बढ़ावा देने के लिए ही करें। गलत काम करने वालों और शरारती तत्वों की सूचना तुरंत पुलिस को दें। उन्होंने आमजन से अपील करते हुए कहा कि यदि आपके आसपास कोई भी असामाजिक तत्व संदिग्ध व्यक्ति या वाहन दिखाई दे या किसी भी आपातकालीन स्थिति में तुरंत संबंधित थाना या डायल 112 पर इसकी सूचना दें।

आपत्तिजनक पोस्ट डालने पर होगी कानूनी कार्रवाई

डीसी ने आमजन से अपील की है कि सोशल मीडिया पर कोई भी ऐसी पोस्ट ना डालें जिससे किसी व्यक्ति की साम्प्रदायिक व धार्मिक भावना को ठेस पहुंचती हो या धार्मिक सौहार्द को खतरा पैदा हो और शांतिभंग हो। उन्होंने कहा कि किसी भी तरह की अमर्यादित भाषा, किसी व्यक्ति विशेष, जाति, धर्म संप्रदाय को आहत करने की मंशा से पोस्ट के रूप में कोई भी वीडियो,फोटो या अभिलेख ना डालें। अगर किसी व्यक्ति अथवा संस्था द्वारा कोई भी आपत्तिजनक पोस्ट डाली गई तो उसके खिलाफ नियमानुसार कानूनी कार्रवाई की जाएगी।