राष्ट्रीयशिक्षा

अब चार साल में होगी ग्रेजुएशन, कॉलेजों के लिए यूजीसी ने जारी किए दिशानिर्देश

प्रोग्राम के मुताबिक, स्टूडेंट्स मौजूदा समय की तरह 3 साल के कोर्सेज के बजाय केवल 4 साल की ऑनर्स डिग्री हासिल कर सकेंगे। ऑनर्स डिग्रियां भी दो कैटेगरी में दी जाएंगी - ऑनर्स और ऑनर्स विद रिसर्च।

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने नई एजुकेशन पॉलिसी के तहत सोमवार को ग्रेजुएट कोर्सेज के लिए करिकुलम और क्रेडिट फ्रेमवर्क को घोषित किया है। जो छात्रों के लिए एक इनोवेटिव और लचीली उच्च शिक्षा प्रणाली प्रदान करेगा। इसके तहत छात्रों को एडमिशन और एग्जिट के लिए कई ऑप्शन मिलेंगे। प्रोग्राम के मुताबिक, स्टूडेंट्स मौजूदा समय की तरह 3 साल के कोर्सेज के बजाय केवल 4 साल की ऑनर्स डिग्री हासिल कर सकेंगे। ऑनर्स डिग्रियां भी दो कैटेगरी में दी जाएंगी – ऑनर्स और ऑनर्स विद रिसर्च।

यूजीसी की ओर से जारी अधिसूचना के मुताबिक, मेन सब्जेक्ट में चार साल की ग्रेजुएशन ऑनर्स डिग्री उन लोगों को दी जाएगी जो 160 क्रेडिट के साथ चार साल का डिग्री प्रोग्राम पूरा करते हैं और क्रेडिट जरूरतों को पूरा करते हैं। जबकि जो स्टूडेंट्स पहले 6 सेमेस्टर में 75 फीसदी या उससे ज्यादा नंबर प्राप्त करते हैं और ग्रेजुएशन लेवल पर रिसर्च करना चाहते हैं, वे चौथे साल में एक रिसर्च स्ट्रीम चुन सकते हैं। इसमें स्टूडेंट्स को एक अथवा उससे ज्यादा सब्जेक्ट के ऑप्शन के बीच में से एक ऑप्शन सेलेक्ट करने में मदद मिलेगी। मौजूदा च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम को संशोधित करके फ्रेमवर्क विकसित किया गया है।

 

करीकुलम और क्रेडिट फ्रेमवर्क से हुए इन बदलावों की लिस्ट

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की ओर से सभी उच्च शिक्षण संस्थानों को यूजीसी द्वारा पाठ्यक्रम को अपनाने के लिए आवश्यक उपाय करने की सलाह दी गई है।

  1.  हॉलिस्टिक और मल्टी- डिसिप्लिनरी अंडरग्रेजुएट एजुकेशन पर जोर
  2. फ्लेक्सिबल करीकुलर स्ट्रक्चर, मल्टीपल एंट्री-एग्जिट की अनुमति और री-एंट्री विकल्प मौजूद होगा
  3.  वर्ष (2 सेमेस्टर) पूरा करने के बाद यूजी प्रमाणपत्र
  4.  साल बाद यूजी डिप्लोमा (4 सेमेस्टर)
  5.  साल (6 सेमेस्टर) के बाद स्नातक की डिग्री
  6.  साल बाद स्नातक की डिग्री (ऑनर्स)
  7. चौथा वर्ष मुख्य रूप से शोध-आधारित शिक्षा के लिए होगा
  8. कम्यूनिटी इंगेजमेंट और सेवाएं, पर्यावरण शिक्षा और मूल्य- आधारित शिक्षा में क्रेडिट आधारित पाठ्यक्रमों और परियोजनाओं को शामिल करना
  9. छात्रों को स्थानीय उद्योग के साथ इंटर्नशिप का अवसर प्रदान किया जाएगा
  10. यूजी सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिए समर टर्म के दौरान 4 क्रेडिट वर्क आधारित लर्निंग इंटर्नशिप से गुजरना होगा

Show More
Back to top button
%d bloggers like this: