ब्रेकिंग न्यूजरेवाड़ी

रेवाड़ी सहित करीब 12 शहर-कस्बों में बाईपास बनाने के मामलों पर चर्चा,डिप्टी सीएम ने अधिकारियों को दिए दिशा-निर्देश

डिप्टी सीएम शुक्रवार को राज्य के करीब एक दर्जन बाईपास रोड के मामलों की विस्तार से सुनवाई की और अधिकारियों को इस दिशा में आगे कार्रवाई करने के निर्देश दिए। ये बाईपास रोड शहरों और कस्बों में यातायात का दबाव कम करने के लिए बनाए जाएंगे।

हरियाणा: उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सड़कें किसी भी प्रदेश की आधारभूत संरचना का अहम हिस्सा होती है इसीलिए राज्य सरकार आवश्यकतानुसार सड़कें और बाईपास का निर्माण कर रही है। उनकी अध्यक्षता में विभिन्न 12 बाईपास रोड बनाने के मामलों पर चर्चा की गई। इस दौरान डिप्टी सीएम ने इन बाईपास के निर्माण के लिए लोक निर्माण विभाग द्वारा तैयार किए गए नक्शा व प्लान देखें और जमीन की उपलब्धता, अधिक से अधिक लोगों को सुविधाजनक यातायात की व्यवस्था देने आदि के बारे में विचार-विमर्श किया।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने रेवाड़ी जिला के कोसली में नया बाईपास तैयार करने, नूंह जिला के पिनगवां, जींद जिला के उचाना में साऊथर्न-बाइपास, हिसार जिला के नारनौंद में नया बाइपास रोड़ बनाने के लिए चर्चा की। इसी प्रकार, सोनीपत जिला के गोहाना व गन्नौर कस्बा का फोरलेन बाईपास, झज्जर जिला के बेरी कस्बा का नया बाईपास, सोंधी व पेल्पा बाइपास, चरखी दादरी जिला के बाढड़ा कस्बा का बाईपास बनाने के लिए आगे की कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

इनके अलावा डिप्टी सीएम ने द्वारका एक्सप्रेसवे से एम्स बाढसा तक नया रोड बनाने, पलवल जिला के मंडकोला सिलानी रोड को डीएनडी, केएमपी एवं दिल्ली वडोदरा एक्सप्रेस वे से जोड़ने के लिए लिंक रोड बनाने पर भी विस्तार से चर्चा की। इस अवसर पर बैठक में विधायक मोहम्मद इलियास के अलावा कई वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

Show More
Back to top button
%d bloggers like this: