रेवाड़ी

रेवाड़ी डीसी की पहल पर महिला सफाई कर्मचारियों ने गणतंत्र दिवस समारोह में बिखेरी सांस्कृतिक छटा

डीसी अशोक कुमार गर्ग सफाई कर्मचारियों को उनका मान-सम्मान दिलाते हुए समाज की मुख्यधारा में लाने के लिए कृतसंकल्प हैं। डीसी गर्ग हर दिन अपनी सकारात्मक सोच और कर्तव्यनिष्ठा से कुछ ना कुछ ऐसा कर जाते हैं कि हर कोई उनकी चर्चा किए बिना नहीं रह पाता। फिर चाहे वह सफाई कर्मचारियों के लिए प्रेरक पाठशाला हो, कंबल वितरण हो या गणतंत्र दिवस पर शहरी निकाय के सफाई कर्मचारियों द्वारा दी गई सांस्कृतिक प्रस्तुति हो।

डीसी अशोक कुमार गर्ग ने बार बार अपने हर प्रयास से यह साबित किया है कि बदलाव की शुरुआत तो एक अकेला व्यक्ति ही करता है बाद में कारवां तो स्वयं ही जुड़ता चला जाता है। इस बार रेवाड़ी में आयोजित 74वें जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस में रेवाड़ी शहरी निकाय की महिला कर्मचारियों द्वारा प्रस्तुत किए गए सांस्कृतिक नृत्य की सकारात्मक पहल से सफाई कर्मचारियों की उत्सुकता और खुशी का कोई ठिकाना नहीं है।

MC Rewari 1

इनका कहना है कि पहली बार इतना मान सम्मान उन्हें दिया गा है। वे कभी जिस स्टेडियम में साफ-सफाई करते थे आज वहीं मंच हमारे लिए तैयार हो रहा है, ये तो मानो हमारे लिए किसी सपने से कम नहीं। इतना मान सम्मान पाकर ये कर्मचारी डीसी अशोक कुमार गर्ग का कोटि-कोटि आभार व्यक्त कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिला उपायुक्त की इतनी आत्मीयता और अपनापन देखकर ऐसा महसूस हो रहा है जैसे वे हमारे परिवार के मुखिया हैं और हम उनके परिवार के सदस्य हैं। जिस प्रकार परिवार का मुखिया को हर सदस्य को अपने साथ लेकर चलता है वैसे ही उपायुक्त हर अवसर पर अपने इस परिवार को विशेष रूप से याद रखते हैं।

MC Rewari 3

उपायुक्त के पद पर आसीन होकर भी अशोक कुमार गर्ग का अपनी जड़ों और संस्कारों से जुड़े रहना इनके व्यक्तित्व की सबसे बड़ी खासियत है। जिस पर प्रत्येक आम नागरिक कायल हैं। अगर प्रत्येक व्यक्ति इसी सकारात्मकता के साथ समाज को आगे बढ़ाने का प्रण करे तो हमारा समाज तरक्की के नाते आयामों तक पहुंचेगा। बदलाव वास्तविकता में होना चाहिए दिखावे में नहीं जिस दिन वास्तविक रूप में जिला उपायुक्त की तरह सभी नगरवासियों ने इस बदलाव को वास्तव में स्वीकार कर लिया उस दिन समाज से हर तरह का भेदभाव स्वत: ही मिट जाएगा।

 

Back to top button