Sunday, September 19, 2021
advt

कोरोना और प्रदुषण के दौर में तंबाकू स्वास्थ्य के लिए ओर ज्यादा घातक

advt.

कोरोना और प्रदुषण के दौर में तंबाकू स्वास्थ्य के लिए ओर ज्यादा घातक .

रेवाड़ी, 9 नवंबर। स्वास्थ्य विभाग द्वारा लोगों का आह्वान किया गया है कि तंबाकू व तंबाकू से बने हुए उत्पादों को प्रयोग न करें, इससे बिमारियां फैलती है। उन्होंने बताया कि जिला में कोरोना के केस बढ़ रहे है, साथ ही सर्दी का मौसम शुरू हो चुका है, और प्रदूषण का प्रकोप भी बढ़ रहा है। ऐसे में तंबाकू व तंबाकू से बने हुए उत्पादों को प्रयोग घातक हो सकता है।

Advt.

इस संदर्भ में आज सीएमओ डॉ सुशील माही द्वारा शपथ दिलवाई गई। उन्होंने शपथ में कहा कि मैं कभी भी किसी भी प्रकार के तंबाकू उत्पादों का धु्रमपान और उपभोग नहीं करूंगा और अपने परिवार या परिचितों को तंबाकू के किसी भी उत्पाद का धूम्रपान और उपयोग न करने के लिए भी प्रेरित करूंंगा। मैं सार्वजनिक क्षेत्र को तंबाकू मुक्त रखूंगा और अपने सहयोगियों को भी ऐसा करने के लिए प्रेरित करूंगा।
डॉ अशोक ने इस अवसर पर बताया कि तंबाकू खाने वाले ईधर-उधर थूकते है, इससे कोरोना वायरस फैलने की आंशका रहती है। उन्होंने कहा कि तंबाकू से अनेक प्रकार की बिमारियां होती है इसलिए इसका सेवन न किया जाएं।

गौरतलब है कि भारत में प्रतिवर्ष लगभग 13 लाख लोग तंबाकू से होने वाली बिमारी से मरते है। शिक्षण संस्थान के 100 गज के दायरे में सिगरेट और अन्य तम्बाकू उत्पादों की बिक्री एक दण्डनीय अपराध है जिसका उल्लंघन करने वाले पर 200 रूपये तक जुर्माना हो सकता है। धारा 6 के अन्तर्गत 18 वर्ष से कम आयु के व्यक्ति को तम्बाकू प्रदार्थ बेचना दण्डनीय अपराध है। इस बारे तम्बाकू विक्रेताओं द्वारा चेतावनी बोर्ड लगवाये जाने अनिवार्य है।

advt.

Related Articles

46,334FansLike
11,640FollowersFollow
1,215FollowersFollow
98,018SubscribersSubscribe
Advt.

Latest Articles