ब्रेकिंग न्यूजरेवाड़ी

रेवाड़ी में गौ सेवको का विरोध प्रदर्शन,कहा नंदीशाला में तीन दिन से भूखे खड़े है गौवंश, धारूहेड़ा नगर पालिका चारे के लिए नहीं कर रही पैसे जारी

रेवाड़ी के धारूहेड़ा में प्रशासन द्वारा खोली गई गौशाला में 500 से ज्यादा गौवंश चारा ना होने के अभाव में भूख के कारण मरने के कागार पर है. गौवंशों की हालात देखते हुए आज गौ सेवकों ने जिला सचिवालय पहुंचकर धरना प्रदर्शन किया और जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा. गौ सेवकों ने कहा कि धारूहेड़ा नगर पालिका चैयरमैन उन्हें परेशान कर रहे है. जो चारे के लिए इंतजाम करने वाली फ़ाइल पर साइन नहीं कर रहे है.

बता दें कि गौवंशों के कारण रेवाड़ी में तीन साल पहले अलग –अलग समय पर तीन मौते हो गई थी. जिसके बाद प्रशासन ने धारूहेड़ा में 7 एकड़ जमीन पर गौशाला खोली थी. जिसका संचालन करने का जिम्मा गौ संगठन को सौंपा था.

गौशाला के प्रधान ने कहा कि प्रशासन ने एग्रीमेंट कर कहा था कि अगर दान में चारा नहीं आता है तो प्रशासन चारा उपलब्ध करायेगा. लेकिन पिछले काफी समय से धारूहेड़ा नगर पालिका के चैयरमैन चारा उपलब्ध कराना तो दूर की बात है वो उन्हें परेशान कर रहे है. इसलिए वो गौशाला का संचालन प्रशासन को सौंपने आयें है. अगर भूख के कारण गौवंश मरते है तो उसका जिम्मेदार प्रशासन होगा.

गौ सेवकों का कहना है कि तीन दिन से गौवंश भूखे है. शासन प्रशासन गायों के संरक्षण के लिए बाते तो करता है. लेकिन उनके इंतजाम के नाम पर कुछ नहीं किया जाता है.

गौ सेवकों ने जिला पंचायत अधिकारी को ज्ञापन सौंपा है. डीडीपीओ ने कहा कि जिला उपायुक्त को मामले से अवगत कराकर समस्या का समाधान कराया जायेगा.

 

Back to top button