Sunday, October 17, 2021
advt

डयूटी करते संक्रमित होने के बाद कोरोना को मात देकर फिर सैंपलिंग कार्य में जुटी स्वास्थ्यकर्मी

advt.
  • डयूटी करते संक्रमित होने के बाद कोरोना को मात देकर फिर सैंपलिंग कार्य में जुटी स्वास्थ्यकर्मी
  • अब तक ले चुकी हैं कोरोना के पांच हजार से ज्यादा सैंपल
  • परिवार के पांच सदस्य कोरोना पाजिटिव होने के बावजूद रखा हौंसला

रेवाडी, 27 मई। जिला में कोरोना संक्रमण से नागरिकों को बचाने की दिशा में कार्य कर रहे विभिन्न विभागों के अधिकारी उपायुक्त यशेंद्र सिंह के मार्गदर्शन में कार्य करते हुए रेवाडी को कोरोना मुक्त बनाने की दिशा में अग्रसर हैं, वहीं स्वास्थ्य विभाग का प्रत्येक कर्मचारी भी बखूबी से डयूटी निभा रहे है। नर्सिंग स्टाफ की बात कि जाए तो नाहड़ सीएसची में कार्यरत स्टाफ नर्स नमिता रानी खुद और उनके परिवार के पांच सदस्य कोरोना पाजिटिव होने के बाद भी हिम्मत नहीं हारी और सभी ने कोरोना को हराया। नाहड सीएचसी में स्टाफ नर्स के पद पर कार्यरत नमिता खुद लोगों के कोरोना टैस्ट करते हुए पाजिटिव हो गई, मगर उन्होंने धैर्य रखते हुए 14 दिन आईसोलेट होते हुुए इलाज लिया और फिर दोबारा से सैंपलिंग कार्य में जुट गई हैं।


  नाहड सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पिछले पांच वर्ष से स्टाफ नर्स के पद पर तैनात नमिता अपने काम को प्रधान मानती हैं, वे कहती हैं कि उन्हें अपनी डयूटी के रूप में जनसेवा का मौका मिला है, यह अपने आप में बड़ी बात है। नमिता ने बताया कि वो गत वर्ष से जिला रेवाडी में कोरोना की दस्तक के बाद से ही उनकी डयूटी कोरोना सैंपलिंग में लगी हुई है, वो अब तक लगभग पांच हजार लोगों के सैंपल ले चुकी हैं। इस बार कोरोना की लहर ज्यादा खतरनाक है। वे बताती हैं कि गत 26 अप्रैल को अपनी डयूटी करके घर गई तो अचानक उनका तबीयत बिगड गई और जुकाम, खांसी के साथ बुखार आ गया। उन्होंने अगले दिन जब रैपिड टैस्ट कराया तो वे पोजिटिव पाई गईं। उन्होंने हौंसला नहीं खोया और अपने घर आईसोलेट हो गई। दो दिन बाद उनकी बेटी जिया और बेटा क्रिश का टैस्ट किया गया तो वे भी पाजिटिव निकले। उन्होंने बताया कि उनका दस सदस्यों का संयुक्त परिवार है, ऐसे में उनकी बहन और दो बच्चे रहते हैं, वे भी पाजिटिव हो गए। परिवार में छह सदस्य कोरोना पाजिटिव होने के बाद भी उन्होंने धैर्य रखा और सभी एक जगह आईसोलेट हो गए।

Advt.


नमिता कहती हैं कि उनके पति वीरेंद्र सिंह भी स्वास्थ्य संस्थान में काम करते हैं और आईसोलेशन वार्ड में तैनात हैं, लेकिन उन्होंने अपने पति को डयूटी पर जाने से नहीं रोका। उन्होंने परिवार के सभी पांच सदस्यों को सही उपचार दिया और वे स्वयं भी उपचार लेकर स्वस्थ हो गई। उन्होंने बताया कि उन्होंने दस दिन बाद ही 6 मई को दो बारा से नाहड सीएचसी में डयूटी ज्वाईन कर ली। उनका एक ही मकसद है कि किसी तरह कोरोना को हराकर लोगों को सुखद अहसास कराया जाए।


  इस संदर्भ में सीएचसी नाहड के एसएमओ डा सुरेंद्र यादव कहते हैं कि कोविड प्रभारी डा राजीव लखेरा,डा प्रीति,स्टाफ नर्स नमिता से लेकर प्रत्येक स्वास्थ्य कार्यकर्ता अपनी अहम भूमिका निभा रहा है। नर्सिंग स्टाफ दिन रात संक्रमितों के बीच रहते हुए भी अपने आपको संक्रमण से दूर रखना बड़ी उपलब्धि है। लेकिन फिर भी कोरोना गाइडलाइन का पालन करने के साथ सकारात्मक सोच और कर्तव्य निष्ठïा ही कोविड संक्रमण से बचाव किए हुए हैं। अस्पताल में आने वाले मरीजों के साथ सौम्य व्यवहार संक्रमितों में नई ऊर्जा का संचार पैदा करता है।

advt.

Related Articles

YouTube Channel
Video thumbnail
प्राइवेट स्कूलों ने हरियाणा बोर्ड की कार्यशैली पर सवाल खड़े किये #rewariupdate
03:26
Video thumbnail
मंडी में खाद के लिए किसानों की भारी भीड़#rewariupdate
08:53
Video thumbnail
रेवाड़ी के बेरली में रावण दहन short #latestnews
00:59
Video thumbnail
रेवाड़ी हुडा ग्राउंड में इस बार नहीं हुआ रावण दहन #rewariupdate
03:33
Video thumbnail
पर्वतारोही भारती ने यूनम पर्वत की 6111 मीटर ऊँची चोटी पर फतह की. स्कूल में हुआ भव्य स्वागत #rewari
03:12
Video thumbnail
IGU में LLB की सीट बढ़ाने को लेकर INSO का विरोध प्रदर्शन #rewariupdate
03:04
Video thumbnail
रेवाड़ी में पुलिस की मौजूदगी में किसानों को दिया खाद #rewariupdate
04:00
Video thumbnail
E-Mail के जरिये Cyber Crime , Police ने कहा जनता सतर्क रहें #rewariupdate
05:56
Video thumbnail
फाइनेंस कम्पनी के कर्मचारी से 7 लाख की लूट #rewariupdate
01:49
Video thumbnail
Rewari AIIMS , संघर्ष समिति ने जल्द निर्माण शुरू कराने को लेकर किया प्रदर्शन #rewariupdate
05:58
46,957FansLike
11,734FollowersFollow
1,216FollowersFollow
98,018SubscribersSubscribe
Advt.

Latest Articles