राष्ट्रीय

रेवाड़ी :100 साल पुरानी हवेली में खुदाई के दौरान मिले अजीबोगरीब तीर

रेवाड़ी :100 साल पुरानी हवेली में खुदाई के दौरान मिले अजीबोगरीब तीर

रेवाड़ी जिले के गांव कंवाली में 100 साल पुरानी हवेली में चल रही खुदाई में अजीबोगरीब तीर मिले हैं। हवेली को गिराने के बाद नए सिरे से बनाने के लिए तोड़ने और खुदाई करने का काम किया जा रहा है। इस दौरान जमीन के नीचे तीर दबे हुए मिले । वहीं हवेली से तीर निकलने की सूचना मिलते ही आसपास के लोग उन्हें देखने पहुंच रहे हैं।

दरअसल, रेवाड़ी के गांव कंवाली में एक हवेली करीब 100 साल पुरानी है और आज वह खंडहर हो चुकी है। हवेली के मालिक ने इसे तुड़वाकर नई बनाने की योजना बनाई है। इसी योजना के तहत निर्माण कार्य शुरू हुआ है। खुदाई के दौरान जमीन में दबे तीर मिले तो हवेली चर्चा का विषय बन गई। अब लोगों का आवागमन जारी है।

गांव कंवाली निवासी सत्यम उर्फ सुभाष मिस्त्री ने बताया कि उन्होंने निर्माण के लिए खंडहर हो चुकी अपनी पुरानी हवेली को तोड़ना शुरू किया। इसमें पुराने जमाने की ईंट व लकड़ी के गार्डर, पुराने कातला-पट्टी लगे हुए हैं। हवेली की दीवारों पर बने हुए गेट व खिड़की भी पुराने जमाने की प्रतीत हो रही हैं। वहीं हवेली की खुदाई में मिले तीर के मुहाने लोहे के व पीछे बांस की लकड़ी लगी हुई है। तीर के मुहाने का लोहा जंग लगा होने के बावजूद ज्यादा क्षतिग्रस्त नहीं है।

सुभाष ने बताया कि रविवार को जब मजदूर खुदाई करने के बाद मलबा हटा रहे थे तो जमीन में उन्हें कुछ दबा दिखाई दिया। सूचना मिलने के बाद मैंने मोके पर पहुंचकर जमीन से इन चीजों को निकालकर साफ किया तो ये पुराने जमाने के तीर निकले। अभी तक केवल 5 तीर ही मिले हैं, परंतु खुदाई के साथ पुराने जमाने की और चीजें मिलने से भी इंकार नहीं किया जा सकता।

 

Show More
Back to top button