राष्ट्रीय

मास्क पहनकर बचाव समझने वाले लोग ये जरुर पढ़ें …

मास्क पहनकर बचाव समझने वाले लोग ये जरुर पढ़ें …

मास्क पहनकर बचाव समझने वाले लोग ये जरुर पढ़ें …कि हम क्या गलती कर रहें है

रेवाडी़, 3 जून। एसडीएम रेवाडी रविन्द्र कुमार ने कहा कि कोरोना महामारी के दौर में उपजी ब्लैक फंगस की बीमारी से बचाव के लिए सफाई व्यवस्था पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। स्वच्छता सभी बीमारियों से दूरी रखती है। निरंतर उपयोग के दौरान फेस मास्क को साफ रखें और हर रोज मास्क बदल कर पहने, एसडीएम रविन्द्र यादव ने आमजन को जागरूक करते हुए कहा कि ब्लैक फंगस रोग से बचाव के लिए पूरी सजगता रखें। यह एक खतरनाक रोग है, जो कमजोर इम्युनिटी वाले किसी भी व्यक्ति को हो सकता है। ब्लैक फंगस से बचने के लिए हर नागरिक को हर रोज मास्क बदलकर पहनना चाहिए।

हर व्यक्ति अपने पास सप्ताह के सात दिनों के लिए अलग-अलग सात मास्क रखें और इनको सोमवार, मंगलवार आदि के हिसाब से हर रोज नया पहनें। एक मास्क को धोकर दूसरे दिन नहीं पहनना चाहिए। एक बार मास्क पहनने के बाद उसका नंबर उसी वार को छह दिन के बाद आना चाहिए। जिससे कि मास्क सूख कर उसके कीटाणु अच्छी तरह समाप्त हो जाए। मास्क में एक भी कीटाणु रह जाए तो वह ब्लैक फंगस का कारण बन सकता है। एसडीएम ने कहा कि कुछ लोग प्रयोग किए हुए मास्क को सडक़ो व गलियों में ईधर-उधर फैंक देते है, उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए, इससे संक्रमण का खतरा बढता है। प्रयोग किए हुए मास्क को डिस्पोज करें।

सिविल सर्जन डा. कृष्ण कुमार ने कहा कि यह जरूरी नहीं है कि जिस व्यक्ति को कोरोना हो चुका है, उसे ही ब्लैक फंगस होगा। यह रोग किसी भी व्यक्ति को भी हो सकता है, जिसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है। उन्होंने बताया कि जिला नागरिक अस्पताल में कोविड से ठीक हो चुके रोगियों को अब हो रही शारीरिक व मानसिक बीमारियों के ईलाज लिए उमंग नाम से ओपीडी शुरू की गई है। इसमें कोरोना से स्वस्थ हो चुके मरीजों की काऊंसलिंग की जाती है और जो कोई शारीरिक परेशानी हो, उसका उपचार किया जाता है।

  सिविल सर्जन ने बताया कि लोग साफ मास्क लगाए, सामाजिक दूरी का पालन करें और बार-बार साबुन से हाथ धोना जारी रखे। उन्होंने कहा कि लोगों को भीड़भाड़ वाले एरिया में जाने से बचना चाहिए। कोरोना संक्रमण खत्म नहीं हुआ है और इससे सावधान रहने की जरूरत है। नागरिक किसी जरूरी कार्य से ही घर से बाहर निकलें और वह भी पूरी एहतियात के साथ। महिलाओं, बच्चों व बुजुर्गों को घर से बाहर नहीं आने दें। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए अपने घर के अंदर व आस पास सफाई रखना भी आवश्यक है।

Show More
Back to top button