राष्ट्रीय

ईमेल के जरिये भी हैकर्स लोगों को बना रहे निशाना , पुलिस ने किया अलर्ट

ईमेल के जरिये भी हैकर्स लोगों को बना रहे निशाना , पुलिस ने किया अलर्ट

साईबर सुरक्षा जागरुकता  अभियान के तहत आज उप पुलिस अधीक्षक रेवाड़ी मोहम्मद जमाल की अध्यक्षता में पुलिस लाइन रेवाड़ी स्थित अपने कार्यालय में आम जन को साईबर क्राइम के प्रति जागरूक करने के लिए एक पत्रकार वार्ता का आयोजन किया गया। पत्रकार वार्ता में साईबर थाना साऊथ रेंज रेवाड़ी प्रबंधक ऋषिकांत भी उपस्थित रहें। डीएसपी मोहम्मद जमाल ने कहा कि आमजन अपनी गोपनीय जानकारी असुरक्षित ई-मेल के माध्यम से कही शेयर ना करे।

उन्होंने कहा कि तकनीकी के इस युग में रोजाना नई तकनीकी आती है. जिसका गलत इस्तेमाल करके साइबर ठग लोगों को अपना निशाना बनाते है. फिलहाल ईमेल के जरिये लोगों शिकार बनाया जा रहा है. यानी अगर आपकी पास किसी अंजान मेल से कोई मेल आता है . और उसमें कोई फ़ाइल अटैचमेंट की हो, हो सकता है कि उसमें कोई ऐसी हिडन फ़ाइल भी भेजी गई हो जिसे खोलते ही आपका सारा डाटा हैकर्स के पास पहुँच जायें . इसलिए अंजान मेल को खोलने से बचना चाहिए .

कैसे बचें

डीएसपी ने बताया कि निम्न सावधानियां पर गौर करके इससे बचा जा सकता है-

  1. किसी ऐसे व्यक्ति को e-mail के माध्यम से निजी जानकारी न दें जिसे आप नहीं जानते हैं या जिसे इसकी वैध आवश्यकता नहीं है।
  2. कम से कम, URL में “https” देखें ताकि यह इंगित (समझ) सके कि एक सुरक्षित कनेक्शन है।
  3. वेब पते को प्रत्यक्ष रूप से टाइप करके वेब साइटों पर जाएं। अवांछित ईमेल में लिंक को क्लिक या कट और पेस्ट न करें।
  4. याद रखें कि वैध दिखने वाली लिंक और वेब साइट वास्तव में फर्जी साइट हो सकती हैं जिन्हें जानकारी चुराने या उपयोगकर्ता को संक्रमित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।
  5. संवेदनशील जानकारी को इंटरनेट/ई-मेल से सुलभ स्थानों पर न डालें। यहां तक कि अनलिंक किए गए वेब पेज भी मिल सकते हैं।
  6. यह कभी न मानें की ईमेल, त्वरित संदेश (IM), टेक्स्ट या अटैचमेंट निजी या गोपनीय हैं। डेटा या संवेदनशील जानकारी ईमेल या त्वरित संदेश (IM) के माध्यम से न भेजें। ये संचार के सुरक्षित तरीके नहीं हैं। यदि आप ईमेल के माध्यम से कोई भी डाटा प्राप्त करते हैं, तो इसे कम से कम समय के लिए रखें और इसे सुरक्षित रूप से हटा दें। इसमें अटैचमेंट शामिल हैं।
  7. E-mail के माध्यम से अटैचमेंट भेजने से बचें। इसके बजाय Google Drive(डिस्क लिंक) का उपयोग करें। यह प्राप्तकर्ताओं द्वारा डाउनलोड किए जा रहे डेटा से बचा जाता है।
  8. उपयोगकर्ताओ को लिए ज्यादा से ज्यादा “गुप्त प्रति” (ब्लाइंड कार्बन कॉपी) ऐप लाइन का उपयोग करें। यह प्राप्तकर्ताओं के ईमेल पतों को छिपाकर सुरक्षित रखता है और आपके ईमेल को पढ़ने में आसान बनाता है।जब आपको उनकी आवश्यकता न हो तो ईमेल और अटैचमेंट हटा दें।

Show More
Back to top button