राष्ट्रीय

फर्जी वेबसाइट्स से सावधान रहने के लिए पुलिस ने जारी की एडवायजरी

फर्जी वेबसाइट्स से सावधान रहने के लिए पुलिस ने जारी की एडवायजरी

कोरोना काल में पुलिस के सामने आया है की साइबर अपराधियों ने साइबर ठगी का तरीका बदल लिया है ..और अब साइबर ठग राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री के नाम से जारी योजनाओं से सबंधित फर्जी वेबसाईट बनाकर लोगों को अपना शिकार बना रहे है . ऐसे में साइबर ठगों से बचने का केवल एक ही तरीका है की हम सभी सावधान हो जाएँ ..और हमें कैसे सावधान रहना है उसके लिए पुलिस बार –बार एडवायजरी जारी कर रही है . कुछ दिन पहले व्हाट्सएप मोबाइल एप को लेकर लोगों को एडवयाजरी जारी की गई थी . की वो कैसे सावधान रहें और अब फर्जी वेबसाइट्स से सावधान रहने के लिए एड्वायजरी जारी की गई है .

आपको बता दें की जितनी भी सरकार की योजनायें चल रही है उससे सबंधित योजनाओं का लाभ देने के लिए फर्जी वेबसाईट साइबर ठगों ने बनाई हुई है ..साइबर ठग कोरोना पीड़ितों को लाभ देने सहित अन्य योजनाओं का लाभ देने का प्रलोभन लोगों को देते है और फिर फर्जी वेबसाइट्स पर क्लिक करने या फिर व्हाट्सएप पर कोई लिंक भेजकर उसे ओपन करने की कहते है ..जिससे आपका मोबाइल हैक हो सकता है और आपकी गुप्त जानकारियों को साइबर ठग आसानी से हांसिल कर सकते है .. ऐसे में जरुरी है की सोशल मीडिया के किसी भी माध्यम से आने वाले लिंक को ओपन ना करें , लुभावने ऑफ़र के झांसे में ना आये.   और किसी भी साइट्स पर जानकारी देने से पहले स्वयं उसकी सत्यता को जान लें …

अब सवाल ये की कैसे सत्यता जाने …सरकार की योजना से सबंधित वेबसाईट के लास्ट में gov.in, या nic.in  मिलेगा , जिस वेबसाईट पर gov.in, या  nic.in  मिलेगा वही  सरकार की सत्यापित साइट है .

अगर किसी के साथ कोई ऑनलाइन धोखाधड़ी होती है ..तो वो  www.cybercrime.gov.in पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकतें है .

बहराल तकनिकी के इस युग में हमें और ज्यादा सतर्क होने के जरूरत है ..किसी भी साइट्स को खोलने से पहले , या किसी मोबाइल एप्लीकेशन को डाउनलोड करने से पहले उसके बारे में जानना जरुरी है .. और किसी भी अंजान व्यक्ति के फोन कॉल करने पर उसके झांसे में ना आये .

Back to top button