राष्ट्रीय

सामाजिक कार्यों के प्रति इच्छुक लोगों के लिए सरकार ने की समर्पण पोर्टल की पहल

सामाजिक कार्यों के प्रति इच्छुक लोगों के लिए सरकार ने की समर्पण पोर्टल की पहल

हरियाणा सरकार ने समाज की सेवा करने और सामाजिक कार्यों के प्रति अपने समय देने के इच्छुक लोगों के लिए प्लेटफार्म उपलब्ध कराने के उद्देश्य से ‘समर्पण’ नामक पोर्टल आरंभ किया है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जयंती पर इस पोर्टल को लांच किया था।

उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने समर्पण पोर्टल की जानकारी देते हुए बताया कि इस पोर्टल के माध्यम से स्वेच्छा से काम करने वाले लोगों को जोड़ा जाएगा जिसके बाद शिक्षा, कौशल विकास, खेल, कृषि आदि के क्षेत्र में युवाओं, सेवानिवृत्त कर्मचारियों सहित स्वयंसेवकों की सेवाएं ली जाएंगी। ‘समर्पण’ पहल के माध्यम से दी जाने वाली स्वैच्छिक सेवाएं शिक्षा, महिला एवं बाल विकास, किसान कल्याण, कौशल विकास जैसे सरकार के विभिन्न कार्यक्रमों तथा प्रयासों के साथ जुड़ी हुई हैं।

उन्होंने कहा कि समर्पण ऐसे स्वयंसेवकों के लिए मंच प्रदान करता है, जो समाज के लिए कुछ करना चाहते हैं। यदि कोई बच्चों की मदद करना चाहता है तो वह उन्हें पढ़ा सकता है, खेल या कौशल का प्रशिक्षण दे सकता है। यदि कोई महिलाओं के कल्याण के लिए काम करना चाहता है तो वह उन्हें पोषण, सशक्तिकरण अथवा सुरक्षा के बारे में जागरुक कर सकता है। स्वैच्छिक सेवाओं का सबसे महत्वपूर्ण पहलू यह है कि ये व्यक्ति आधारित हैं और इस पहल के माध्यम से कोई स्वयंसेवी सुशासन के लक्ष्य को पूरा करने में सरकार और स्थानीय समुदाय की सहायता कर सकता है।
उन्होंने कहा कि ‘समर्पण’ कार्यक्रम का लक्ष्य समाज के जरूरतमंद लोगों के लिए कुछ कर-गुजरने की इच्छा रखने वाले व्यक्ति की राह को आसान करना है। यदि कोई इस प्रश्न का उत्तर खोज रहा है कि ‘वह दूसरों के लिए क्या कर रहा है‘ तो राज्य सरकार ‘समर्पण’ के माध्यम से उसे प्रदेश में सकारात्मक बदलाव का वाहक बनने के लिए आमंत्रित करती है। उपायुक्त ने कहा कि रेवाड़ी जिला में बड़ी संख्या में ऐसे लोग है जो कि सामाजिक कार्यो में अग्रणी रहते है। उन लोगों के लिए समर्पण पोर्टल सरकार की एक सराहनीय पहल है।

Back to top button