राष्ट्रीय

संदिग्ध वस्तु,व्यक्ति व विस्फोटक पदार्थ की पहचान करने में डॉग स्क्वायड की अहम भूमिका

संदिग्ध वस्तु,व्यक्ति व विस्फोटक पदार्थ की पहचान करने में डॉग स्क्वायड की अहम भूमिका

किसी भी प्रकार की संदिग्ध वस्तु,व्यक्ति व विस्फोटक पदार्थ की पहचान करने में डॉग स्क्वायड की अहम भूमिका .

रेवाड़ी जंक्शन पर यात्रियों की सुरक्षा व्यवस्था को बनाये रखने के लिए चलाये जा रहे सघन जांच अभियान के समय आरपीएफ निरीक्षक प्रदीप कुमार सांगवान ने देते हुए बताया कि हमारे पास विस्फोटक पदार्थ को सूंघ कर पहचान करने में विशेष क्षमता रखने वाला” डॉग मर्फी ” काफी समय से सेवा में है।

जिसकी व्यवस्था के लिए डॉग हैंडलर कॉन्स्टेबल ललित व कॉन्स्टेबल सुरेश हमेशा तैयार रहते है।उन्होंने बताया कि उच्च अधिकारियों से प्राप्त दिशानिर्देशों की अनुपालना करते हुए आरपीएफ सहायक सुरक्षा आयुक्त अवतार सिंह तूर के मार्गदर्शन में आरपीएफ व जीआरपी रेवाड़ी के थाना के नेतृत्व में कोविड नियमों का पालन करते हुए रेलवे स्टेशन पर अलग अलग प्लेटफार्म की सुरक्षा टीम बनाकर कई दिनों से अलग अलग समय पर यह विशेष सघन जांच अभियान चलाया जा रहा है।

आरपीएफ इंस्पेक्टर ने बताया कि स्टेशन पर यात्रियों किसी भी अप्रिय घटनाओं से बचाने के लिए आरपीएफ व जीआरपी के जवानों द्वारा स्टेशन पर प्रत्येक यात्री ट्रेन के स्टेशन पर पहुँचने पर उतरने व चढ़ने वाले यात्रियों के सामान की जांच जा रही है।तथा यात्रियों को कोविड बचाव के साथ सफर करने के बारे में हिदायत भी दी जा रही है।जीआरपी थाना प्रभारी सब इंस्पेक्टर रणबीर सिंह ने बताया कि स्टेशन पर यात्रियों की सुरक्षा के लिए जीआरपी व आरपीएफ जवान 24घण्टे डयूटी कर रहे है।

उन्होंने बताया कि आज स्टेशन के पार्किंग क्षेत्र में खड़े वाहनों,प्लेटफार्म,विश्रामगृह,आने जाने वाली यात्री गाड़ियों में लोगों के सामान की” डॉग स्क्वायड “के द्वारा जांच करके व्यक्तिगत पूछताछ की जा रही है।सघन जांच अभियान में आरपीएफ व जीआरपी के जवानों सहित महिला कॉन्स्टेबल भी उपस्थित रही।

Back to top button