राष्ट्रीय

30 सितंबर तक आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए चलेगा विशेष पखवाडा , पढ़े कैसे करें अप्लाई

30 सितंबर तक आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए चलेगा विशेष पखवाडा , पढ़े कैसे करें अप्लाई

आयुष्मान भारत योजना आमजन के लिए बेहद हितकारी योजना है। यह योजना गरीब परिवारों को स्वास्थ्य लाभ देने की दिशा में अहम साबित हुई है। उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने यह जानकारी देते हुए बताया कि आयुष्मान भारत योजना या प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, भारत सरकार की एक स्वास्थ्य योजना है, जिसे 15 अगस्त 2018 को हरियाणा में लागू किया गया था। इस योजना का उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को स्वास्थ्य बीमा मुहैया कराना है।

उन्होंने आह्वान किया कि जिले में चिन्हित लाभार्थी योजना का लाभ उठाने के लिए जल्द से जल्द अपना गोल्डन कार्ड नजदीकी आयुष्मान सूचीबद्व अस्पताल एवं नजदीकी सरल सहायता केंद्रों से बनवा लें ताकि जरूरत पड़ने पर बिना किसी परेशानी के गोल्डन कार्ड का लाभ ले सकें। सरकार की ओर से 30 सितंबर तक विशेष आयुष्मान भारत पखवाड़ा भी चलाया जा रहा है, जिसके तहत नि:शुल्क आयुष्मान कार्ड बनाए जा रहे हैं। सिविल सर्जन डा. कृष्ण कुमार ने बताया कि अब लाभार्थी अपने गांव के नजदीकी सरल सहयता केंद्रों पर जाकर भी अपने आयुष्मान कार्ड बनवा सकता है।

रेवाड़ी में 5673 को मिला मुफ्त इलाज

जिला आयुष्मान भारत योजना के नोडल अधिकारी डा. विशाल राव ने बताया कि अब तक जिले में कूल 5673 मरीजों का नि:शुल्क इलाज किया जा चुका है जिस पर सरकार द्वारा लगभग 5.5 करोड़ की राशि खर्च की गई है। उन्होंने बताया की आयुष्मान भारत योजना के तहत पहले दिन से ही सभी प्रकार की बीमारियां कवर की जाती हैं व लाभार्थी परिवार के सभी सदस्यों जिनका नाम लिस्ट में पाया जाता है, को इसका लाभ मिलता है एवं भर्ती रहने के दौरान सभी प्रकार का खर्चा आयुष्मान भारत योजना के तहत वहन किया जाता है।

जिले में 45595 परिवार सूची में शामिल हैं इन परिवारों में कुल 205177 लाभार्थी शामिल हैं इनमें से 76599 लोगों का गोल्डन कार्ड बन चुका है। जिले में चिन्हित अस्पतालों में गोल्डन कार्ड बनवा सकतें है व योजना का लाभ उठा सकते हैं। जिला रेवाड़ी में 2 सरकारी अस्पताल नागरिक अस्पताल रेवाड़ी व एसडीएच कोसली तथा 16 निजी अस्पताल आयुष्मान योजना के तहत सूचीबद्घ किए गए हैं।

किसका बनेगा गोल्डन कार्ड

सामाजिक एवं आर्थिक जनगणना 2011 के आधार पर बनी लाभार्थियों की सूची में जिनका नाम है, उनका गोल्डन कार्ड बनेगा। यह सभी सूचीबद्ध अस्पतालों पर निशुल्क बनता है। नजदीकी सरल सहायता केंद्रों पर निशुल्क इसे बनवाया जा सकता है। कोई समस्या होने पर टोल फ्री नंबर 14555 या 1800-1800-4444 पर या नागरिक हॉस्पिटल रेवाड़ी  स्थित आयुष्मान भारत पूछताछ केंद्र से संपर्क किया जा सकता है।

आयुष्मान भारत योजना कार्ड कैसे बनवाये

सर्वप्रथम आपको अपने नजदीकी सरल सहयता केंद्रों या नज़दीकी निजी या सरकारी सूचीबद्व अस्पतालों में अपने दस्तावेज़ों जैसे आधार कार्ड ,राशन पत्रिका , फैमिली ढ्ढष्ठ ,पंजीकृत मोबाइल नंबर आदि के साथ जाना होगा। इसके बाद आपका नाम जन आरोग्य योजना की सूची में जांचा जायेगा। इस सूची में नाम आने के बाद ही आपको आयुष्मान कार्ड प्रदान किया जायेगा।

गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए ये दस्तावेज साथ लेकर जाएं

1 मूल राशन कार्ड
2 मूल फैमिली आईडी कार्ड
3 मूल आधार कार्ड
4 प्रधानमंत्री का मूल पत्र यदि प्राप्त हुआ है।

Back to top button