कौन बनेगा रेवाड़ी और धारूहेड़ा MC का चेयरपर्सन

लम्बे इन्तजार के बाद रेवाड़ी नगर परिषद् और धारूहेड़ा नगर पालिका के चुनावों की घोषणा आज कर दी गई है .  इसके आलावा प्रदेश के दुसरें जिलों के नगर निगम , नगर परिषद् और नगर पालिका के चुनाव की घोषणा भी की गई है .  जिला उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी यशेंद्र सिंह ने बताया है कि 4 दिसंबर को नोमिनेशन की अधिसूचना जारी कर दी जायेगी , जिसके बाद 11 से 16 दिसंबर तक नोमिनेशन का कार्य किया जाएगा . और 17 दिसंबर को नॉमिनेशन फार्म की छटनी की जायेगी . जिसके बाद 18 दिसंबर को प्रात: 11 बजे से सायं 3 बजे तक नाम वापिस लिए जा सकेगें, और इसी दिन सायं 3 बजे बाद चुनाव चिन्ह आवंटित कर दिए जायेंगे । और फिर 27 दिसंबर को प्रात: 8 बजे से 4:30 बजे तक मतदान होगा और मतों की गिनती 30 दिसंबर को की जायेगी । इस बीच यदि कहीं पुन: चुनाव होता है तो वह 29 दिसंबर को किया जाएगा ।

 

आपको बता दें की रेवाड़ी नगर परिषद् और धारूहेड़ा नगर पालिका के चुनाव मार्च 2018 में होने थे लेकिन विभिन्न कारणों के चलते चुनाव नहीं कराये गए. और अब चुनाव की घोषणा होने के बाद लोगों का कहना है की चुनाव के बाद शहर के विकास कार्यों को गति मिलेगी. यहाँ आपको बता दें कि रेवाड़ी शहर के अंदर 31 वार्ड है , जिसमें 107280 मतदाता है . वार्ड 13 में सबसे कम 1947 मतदाता है जबकि वार्ड 12 में सबसे ज्यादा 5708 मतदाता है .  यानी वार्डों में मतदाताओं का अंदर काफी ज्यादा है . नगर परिषद् ने नइ वार्ड बंदी के लिए काफी रूपए खर्च करके सर्वे भी कराया लेकिन अभी पुरानी वार्ड बंदी के हिसाब से ही चुनाव करायें जायेंगे.

साथ ही आपको बता दें की नई वार्ड बंदी को लेकर और अनुसूचित जाति के वार्ड 5 की बाजए छह करने को लेकर हाई कोर्ट में याचिका भी दायर की हुई है. याचिकाकर्ता परमानन्द ने कहा है की वो चुनाव पर स्टे के लिए कोशिस करेंगे .

वहीँ इस बार खास बात ये है की सीधे चेयरमैन पद के लिए चुनाव कराये जा रहे है . रेवाड़ी नगर परिषद् चैयरमैन का पद पिछड़ा वर्ग महिला  के लिए आरक्षित किया गया है . जबकि धारूहेड़ा नगर पालिका चेयरमैन का पद अनारक्षित है .जहाँ से कोई भी नामांकन दाखिल करके चुनाव लड़ सकता है . धारूहेड़ा नगर पालिका में 17 वार्ड है जिनमें 21819 मतदाता है .

 

इस बार चेयरमैन पद के लिए सीधे चुनाव है तो शहरी क्षेत्र का पूरा जातीय समीकरण भी देखा जा रहा है .  रेवाड़ी नगर परिषद् चेयरमैन पद पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित है . और पिछड़ा वर्ग के मुख्य दावेदारी करने वाली जाति के उम्मीदवार यादव है , जिसके बाद सैनी और गुर्जर और अन्य जाति के उम्मदीवार शामिल है ,  लेकिन चेयरमैन बनाने में निरणनायक भूमिका पंजाबियों की होने वाली है.

वहीँ धारूहेड़ा चेयरमैन पद आनारक्षित है ..जहाँ सबसे ज्यादा यादव वोट है, जिसके बाद एससी और कुम्हार जाति के वोट है.  ऐसे में उम्मीदवार विभिन्न तरीकों से अपनी गोटियाँ फिट करने में लगे है .

 

एक सवाल ये भी की क्या बीजेपी टिकट पर अपने उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतरेगी …जिसकी स्थिति अभी पूरी तरह से स्पष्ट नहीं हो पाई है . लेकिन बीजेपी ने रेवाड़ी नगर परिषद् चुनाव के लिए  बीजेपी वरिष्ठ नेता रामबिलास शर्मा को रेवाड़ी का प्रभारी बनाया है . और भाजपा नेता अपना चेयरमैन बनाये जाने का दम भी भर रहे है . वहीँ कांग्रेसी नेता का कहना है की कांग्रेस टिकट पर काफी नगर निकाय चुनाव नहीं लडती लेकिन अप्रत्यक्ष तौर पर कांग्रेस समर्थित उम्मीदवारों का समर्थन जरुर करेंगे.  ऐसे में जैसे –जैसे चुनाव प्रकिया आगे बढ़ेगी उम्मीदवारों की सूचि और कौन सा उम्मीदवार मजबूती से आगे आ रहा है वो भी धीरे धीरे सामने आ जायेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: