हरियाणा

गुरुग्राम से होकर गुजरेगा देश का पहला नेशनल इलेक्ट्रिक हाइवे,ट्रायल के बाद बनेगा विश्व का सबसे लंबा इलेक्ट्रिक हाईवे

देश का पहला नेशनल इलेक्ट्रिक हाइवे गुरुग्राम से होकर गुजरेगा. पहले इसका स्टार्टिंग प्वाइंट गुरुग्राम था, जिसे अब दिल्ली के इंडिया गेट तक कर दिया गया है. खबरों के मुताबिक अभी इस हाइवे पर ट्रायल होना बाकि है जो 9 सितम्बर को होगा.

मिली जानकारी के मुताबिक इस हाइवे पर पहले इलेक्ट्रिक वाहनों का ट्रायल होगा जिसके बाद ही इस हाइवे पर पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन वाले सभी डीजल और पेट्रोल के वाहन हटा दिए जाएंगे. इनकी जगह पर ई -बस और ई -टैक्सी चलाई जाएगी.

 

ट्रायल के बाद बनेगा विश्व का सबसे लंबा हाइवे

बता दें कि दिल्ली से जयपुर के बीच सबसे ज्यादा इलेक्ट्रिक व्हीकल गुरुग्राम में है. गुरुग्राम से जयपुर के बीच सिंगल विंडो क्लीयरेंस के तहत चार्जिंग स्टेशनों और सार्वजनिक परिवहन का भी ब्योरा तैयार किया जा रहा है.9 सितम्बर के बाद ही दिल्ली से जयपुर के बीच ट्रायल रन भी शुरू किया जाएगा.

 

8 अक्टूबर तक ट्रायल होने के बाद अगले 40 महीने में 40 फ़ीसदी EV व्हीकल इस पर चलाए जाएंगे. ट्रायल के बाद यह विश्व का सबसे लंबा इलेक्ट्रिक हाईवे बनने वाला है. अभी जर्मनी के बर्लिन में 109 km लंबा इलेक्ट्रिक हाईवे है. NHEV खुलने का सबसे बड़ा फायदा गुरुग्राम के लोगों को होने वाला है.

 

9 सितंबर से शुरू होगा ट्रायल  

गुरुग्राम में पहले ही ईवी के चार्जिंग स्टेशन लगा दिए गए है. गुरुग्राम में कई ऐसी चीजों को विकसित कर चुकी है जिससे आने वाले समय में गुरुग्राम ईवी के मामले में देश का अग्रणी शहर होने वाला है. 9 सितंबर से शुरू होने वाले ट्रायल के दौरान आ रही खामियों को वर्किंग ग्रुप के सदस्य द्वारा दूर किया जा रहा है.

 

NH-4 इलेक्ट्रिक व्हीकल की तरफ से ईवी वर्किंग ग्रुप भी बनाया गया है. इसमें ई-वाहन व बैटरी निर्माता, चार्जिंग स्टेशन संचालक, एक्सपर्ट आदि को शामिल किया गया है. 9 सितंबर से शुरू होने वाले ट्रायल के दौरान आने वाली खामियों को वर्किंग ग्रुप के इन सदस्यों द्वारा ही दूर किया जा रहा है. ट्रायल के बाद इंवेस्टमेंट का ब्रेक ईवन 36 महीने का होगा और 40 महीने में पूरी तरह से चालू कर दिया जाएगा.

ये भी पढ़े : जर्मनी और इटली के दौरे पर पहुंचा सहकारिता मंत्री के नेतृत्व में पांच सदस्यीय दल https://rewariupdate.com/?p=21491

क्या खास है इस  EV हाईवे में

इस हाइवे की ख़ास बात यह है कि इस पर ट्रायल के दौरान 100 कार और 25 बसें चलाई जाएंगी. इस हाइवे पर कोई भी व्यक्ति चालक या खुद चलाने के लिए ई कार किराये पर ले सकता है.गाड़ियों को चार्ज करने के लिए कुल 12 चार्जिंग प्वाइंट होंगे, जो पूरी तरह से सौर उर्जा से गाड़ियों को चार्ज करेंगे. गाड़ी चार्जिंग के दौरान परिवारों के लिए मनोरंजन और काम करने के साधन के साथ- साथ खरीदारी से लेकर खानपान की व्यवस्था भी वहां पर उपलब्ध करवाई जाएगी.

 

ये भी पढ़े : बिना हेलमेट स्टार्ट नहीं होगी बाइक, रेवाड़ी के युवा ने सैनिकों के लिए साइलेंट पेट्रोलिंग मशीन भी बनाई https://rewariupdate.com/?p=21459

Show More
Back to top button