हरियाणा

अखंड भारत संदेश यात्रा का नेतृत्व करेगी सैनिक परिवार की बेटी मीनाक्षी, अप्रैल में शुरू होगी यात्रा

अखंड भारत संदेश यात्रा का नेतृत्व करेगी सैनिक परिवार की बेटी मीनाक्षी, अप्रैल में शुरू होगी यात्रा

इंडियन मीडिया सेंटर हरियाणा अप्रैल माह में अखंड भारत सन्देश यात्रा की शुरुआत करने जा रहा है. जिस यात्रा का नेतृत्व झज्जर की रहने वाली सैनिक परिवार की बेटी मीनाक्षी करने वाली है. इंडियन मीडिया सेंटर के महासचिव नरेंद्र सिंह ने बताया कि मीनाक्षी का चयन टीम लीडर के तौर पर हुआ है.

 

आपको बता दें कि झज्जर जिले के गाँव भूरावास की रहने वाली मीनाक्षी बीएससी की सेंकेड ईयर की छात्रा है. जिनके दादा जी भारतीय सेना में थे और पिता जी भी आर्मी में है और देश की सेवा कर रहे है. मीनाक्षी ने बताया कि वो इंडियन मीडिया सेंटर की आभारी है. जिन्होंने उसे इस यात्रा में टीम लीडर के तौर पर शामिल किया और देशहित में कुछ करने का मौका दिया.

अखंड भारत संदेश यात्रा का नेतृत्व करेगी सैनिक परिवार की बेटी मीनाक्षी, अप्रैल में शुरू होगी यात्रा

मीनाक्षी के गाँव के सरपंच जगबीर जाखड ने कहा कि उन्हें गर्व है कि उनके गाँव की बेटी देश की एकता और अखंडता के लिए सन्देश यात्रा का नेतृत्व करेगी.  मीनाक्षी ने बारहवीं रेवाड़ी जिले के गाँव भाकली स्थित एसकेजी सीनियर सेकेंडरी स्कूल से उर्तीण की थी . स्कूल के डायरेक्टर श्याम सिंह यादव ने कहा कि मीनाक्षी पढ़ाई के साथ-साथ स्कूल की विभिन्न गतिविधियों में हमेशा आगे रहती थी. दसवीं और बारहवीं दोनों क्लास में मीनाक्षी ने मैरिट प्राप्त की. उन्होंने कहा कि बेटी के परिवार और गाँव के साथ उनके स्कूल के लिए भी गौरव की बात है कि उनके स्कूल की छात्रा अखंड भारत सन्देश यात्रा को लीड करेगी.

आपको बता दें कि इंडियन मीडिया सेंटर देशहित और समाजहित में इसी तरह की 5 यात्राएं अलग –अलग समय पर करा चूका है. यात्रा की टीम तैयार करने लिए कॉलेजों में पढने वाली छात्राओं से आवेदन मांगे जाते है. जिसके बाद तीन दिन की ट्रेनिंग दी जाती है और फिर फाइनल टीम तैयार की जाती है.

 

इंडियन मीडिया सेंटर के महासचिव नरेद्र सिंह ने कहा कि हिसार की बेटी सरीन इस यात्रा की संयोजक की भूमिका निभाएगी . इस यात्रा में 18 जिलों का प्रतिनिधित्व होगा और 4 राज्यों से संबंधित 183  लड़कियां इस यात्रा में भाग ले रही है. इस यात्रा की खास बात ये है कि बेटियों को यात्रा की पूरी जिम्मेदारी सौंपी जाती है.

Back to top button