हरियाणा

E Shram Card: जानें किसे मिलेगी ई श्रम पेंशन,पढ़े विस्तार से

E Shram Card: जानें किसे मिलेगी ई श्रम पेंशन,पढ़े विस्तार से

केंद्र सरकार ने असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए ई-श्रमिक पोर्टल लॉन्च किया है। इस ई श्रम पोर्टल के जरिए केंद्र सरकार देश के हर मजदूर का रिकॉर्ड जुटाएगी। निर्माण श्रमिक, प्रवासी श्रमिक, रेहड़ी-पटरी वाले और घरेलू कामगार इस पोर्टल पर अपना पंजीकरण करा सकते हैं। असंगठित क्षेत्र के करीब 38 करोड़ मजदूरों के लिए 12 अंकों का यूनिवर्सल अकाउंट नंबर और ई श्रम कार्ड जारी किया जाएगा, जो पूरे देश में मान्य होगा

 

सरकार की इस पहल से देश के करोड़ों असंगठित श्रमिकों को एक नई पहचान मिलेगी। इस ई श्रम पोर्टल पर पंजीकरण के बाद श्रमिकों को भारत सरकार की सामाजिक सुरक्षा योजना का लाभ लेने के लिए बार-बार पंजीकरण कराने की आवश्यकता नहीं होगी। रजिस्ट्रेशन के तीन तरीके हैं।  अगर आप भी ई श्रम कार्ड बनवाना चाहते हैं तो ऑफिशियल वेबसाइट eshram.gov.in पर जाकर अप्लाई कर सकते हैं। सभी श्रमिक ले सकते हैं ई श्रम पेंशन योजना का लाभ।

E Shram Card: जानें किसे मिलेगी ई श्रम पेंशन,पढ़े विस्तार से

इसके लाभ

यदि कोई कर्मचारी ई श्रम पोर्टल पर पंजीकरण करता है तो उसे 2 लाख रुपये के दुर्घटना बीमा का लाभ मिलेगा। इसमें सरकार की ओर से एक साल का प्रीमियम दिया जाएगा। यदि कोई पंजीकृत कर्मचारी किसी दुर्घटना का शिकार होता है तो उसकी मृत्यु या पूर्ण रूप से अपंग होने की स्थिति में वह 2 लाख रुपये का हकदार होगा। वहीं, आंशिक रूप से विकलांगों के लिए बीमा योजना के तहत एक लाख रुपये दिए जाएंगे। हालांकि ई श्रम कार्ड योजना के कई लाभ हैं जो सीधे असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को मिलेंगे।

 

कौन कर सकता है आवेदन

केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्रालय असंगठित क्षेत्र के करीब 38 करोड़ श्रमिकों के लिए 12 अंकों का ई श्रम कार्ड यूनिवर्सल अकाउंट नंबर जारी करेगा। इस कदम से न केवल कल्याणकारी योजनाओं की पोर्टेबिलिटी की सुविधा होगी, बल्कि संकट के समय श्रमिकों को कई लाभकारी योजनाओं का लाभ भी मिलेगा। बता दें कि देश भर से 38 करोड़ से अधिक असंगठित श्रमिक इस ई श्रम पोर्टल पर पंजीकरण करा सकते हैं। इनमें कृषि श्रमिक, प्रवासी श्रमिक, गिग श्रमिक आदि शामिल हैं।

 

हेल्पलाइन नंबर

सरकार ने श्रमिकों की मदद के लिए एक ई-श्रम पोर्टल टोल फ्री नंबर भी दिया है , जिसमें निर्माण श्रमिकों, प्रवासी श्रमिकों, रेहड़ी-पटरी वालों और घरेलू कामगारों के अलावा शामिल हैं। उन्होंने कहा कि ई श्रम पोर्टल के शुभारंभ के बाद उसी दिन से असंगठित क्षेत्र के श्रमिक अपना पंजीकरण करा सकते हैं. श्रमिकों को अपना ई श्रम कार्ड पंजीकरण कराने में मदद के लिए एक राष्ट्रीय ई श्रम पोर्टल टोल फ्री नंबर 14434 भी शुरू किया गया है।

 

किसे मिलेगी ई श्रम पेंशन

ई श्रम पेंशन योजना 2021 केंद्र सरकार द्वारा मजदूर वर्ग के लोगों के लिए ई श्रम पोर्टल शुरू किया गया है। इसके तहत सभी श्रमिक का डाटा केंद्र सरकार को भेजा जाएगा। और सभी मजदूर वर्ग के लोगों को ई-श्रम कार्ड उपलब्ध कराया जाएगा। तो ऐसे लोग जो नीचे दिए गए मजदूरों की श्रेणी में आते हैं। इस ई श्रम कार्ड के तहत आवेदन करने पर श्रमिकों को 60 वर्ष की आयु के बाद सरकार द्वारा पेंशन प्रदान की जाती है। यदि किसी कारण से श्रमिक की मृत्यु हो जाती है। इसलिए उनकी पत्नी को भी पेंशन दी जाती है।

 

सरकार द्वारा श्रम पेंशन योजना के लिए केवल असंगठित क्षेत्र के श्रमिक ही आवेदन कर सकते हैं। योजना के माध्यम से वह 60 वर्ष बाद निर्धारित समय पर अपने खाते में पेंशन की राशि प्राप्त कर सकता है। इस ई श्रम पोर्टल पेंशन योजना के लिए 18 वर्ष से 40 वर्ष तक के नागरिक आवेदन कर सकेंगे। ई श्रम कार्ड योजना का लाभ लेने के लिए मजदूरों को अपनी उम्र के अनुसार हर महीने 55 रुपये से लेकर 200 रुपये तक की राशि अपने बैंक में जमा करनी होगी।

 

ई श्रम पोर्टल पर पंजीकृत श्रमिकों की आयु 18 वर्ष है तो आपको 55 रुपये प्रतिमाह जमा करना होगा, यदि आप 40 वर्ष के हैं तो 60 वर्ष की आयु तक 200 रुपये प्रति माह जमा करना होगा। जिसके बाद ई श्रम कार्ड धारकों को पेंशन मिलेगी। यह पेंशन राशि उनके वृद्धावस्था का सहारा होगी क्योंकि बुढ़ापे में कोई किसी की देखभाल नहीं करता है, लेकिन ई श्रम पेंशन योजना के माध्यम से श्रमिकों को किसी के आगे झुकना नहीं पड़ेगा और न ही उन्हें किसी सहारे की आवश्यकता होगी।

 

 

 

Show More
Back to top button