हरियाणा

हरियाणा के ग्रामीण क्षेत्रों को मिलेगी पानी की सौगात

हरियाणा के ग्रामीण क्षेत्रों को मिलेगी पानी की सौगात

हरियाणा में पानी आने वाले समय में चुनौती न बने सरकार इसकी तैयारी कर रही है। पानी के लिए प्रदेश में किए गए 7 साल के काम को मुख्यमंत्री हरियाणा की जनता के बीच पेश करते हुए ग्रामीणों के लिए कोई बड़ी घोषणा कर सकते हैं। इसके अलावा सूक्ष्म सिंचाई, परिवार पहचान पत्र, अंत्योदय योजना को लेकर भी बड़ी घोषणा संभव है।

 

किसान अपने खेत का पानी खेत में इस्तेमाल कर सकें। इसके लिए सरकार की ओर प्रयास किए जा रहे हैं। पानी बचाना सरकार का मुख्य उद्देश्य है। लिहाजा बाढ़ के दौरान व्यर्थ होने वाले पानी को जमीन के नीचे भेजने की तैयारी चल रही है। आमतौर पर बाढ़ आने पर हरियाणा का पानी दिल्ली के लिए मुसीबत बनता है। इस पानी को यहां स्टोर किया जाएगा तो किसानों को बड़ी राहत मिलेगी।

 

सरकार की ओर से पौंड अथॉरिटी का गठन किया गया है। हरियाणा तालाबों की मैपिंग में सभी राज्यों में पहले नंबर पर आया है। कई स्थानों पर लोगों की जीविका का साधन ही तालाब हैं। इन तालाबों पर कब्जे हटाने शुरू किए जा चुके हैं। चूंकि जमीन के नीचे पानी पहुंचाने में इन तालाबों का अधिक योगदान होता है। इसलिए इनका जीर्णोद्धार किया जाएगा।

 

सरकार ने कैथल में जमीन के नीचे बरसाती पानी भेजने के लिए 1000 रिवर्स बोरवेल मंजूर किए थे। इसमें से 600 बोरवेल विभाग ने लगा दिए हैं। जल्द ही इनकी जमीनी हकीकत दिखनी शुरू हो जाएगी। इसके अलावा प्रत्येक गांव में जल का आकलन कर यह बताया जाएगा कि किस गांव में कितने वर्ष के लिए पानी बचा है। इस पानी को अधिक समय तक कैसे बनाए रखें, इसके लिए भी किसानों को जागरूक किया जाएगा।

 

 

Show More
Back to top button