हरियाणा

बिजली निगम ने किसानों को दी राहत, ट्यूबवेल कनेक्शन का एक और मौका

बिजली निगम ने किसानों को राहत दी है. किसानों को ट्यूबवेल कनेक्शन के लिए एक और मौका दिया गया है. अब कनेक्शन लेने से वंचित किसान सिक्योरिटी राशि जमा करवाकर कनेक्शन ले सकते हैं इसके बारे में अब नोटिस भेजकर किसानों को जानकारी दी जा रही है. सरकार की विशेष योजना के तहत वर्ष 2014 से 2018 तक ट्यूबवेल कनेक्शन लेने से वंचित रहे किसानों को बिजली निगम ने दोबारा एक और मौका दिया है. निगम के निदेशालय ने पत्र जारी कर किसानों की तरफ से सिक्योरिटी राशि जमा करवाने के बाद कनेक्शन ले सकते हैं. सरकार ने वर्ष 2018 में प्रदेश के कई क्षेत्रों से पानी की कमी के चलते डार्क जोन में आने के कारण कनेक्शन देने बंद कर दिए थे.

अब निगम ने उस समय आवेदन करने वाले किसानों को फिर से सिक्योरिटी की राशि जमा करवाने की स्थिति में कनेक्शन देने का निर्णय लिया है. निगम ने यह निर्णय 1 जिले के किसानों के लिए नहीं बल्कि पूरे राज्य के किसानों के लिए लिया है. बता दे कि अकेले कैथल जिले में करीब 3000 कनेक्शन लंबित हैं।

किसानों नोटिस भेजकर दी जा रही जानकारी

किसानों को ट्यूबवेल कनेक्शन देने के लिए निगम के अधिकारियों की तरफ से नोटिस भेजकर जानकारी दी जा रही है. उल्लेखनीय है कि किसानों की तरफ से ट्यूबवेल कनेक्शन नहीं मिलने की स्थिति में समय-समय पर प्रदर्शन भी किया जाता है. परंतु अब उनकी समस्या जल्द ही दूर होगी उन्हें निगम की तरफ से ट्यूबवेल कनेक्शन देने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी. उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के एक्सईएन प्रदीप गोयल ने बताया कि बिजली निगम के मुख्यालय की तरफ से जारी निर्देशों के तहत टेबल कनेक्शन के आवेदकों को जिन्होंने 1 जनवरी 2014 से दिसंबर 2018 तक टेबल कनेक्शन के लिए आवेदन किया था, परंतु उन्हें कनेक्शन नहीं मिल पाया. उन्हें किसानों से अब निगम ने दोबारा से आवेदन मांगे हैं उसकी फीस जमा होने के बाद उन्हें कनेक्शन देने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी.

Show More
Back to top button