सरकारी योजनाहरियाणा

109 करोड़ की 21 परियोजनाओं का सीएम खट्टर ने किया उद्घाटन एवं शिलान्यास

करनाल के लिए बड़े हर्ष की बात है कि 21 परियोजनाओं में सबसे बड़ी परियोजना नगर परिषद के भवन के शिलान्यास की है। इस नए भवन को साढ़े 35 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जाएगा। इस अवसर पर विकास एवं पंचायत मंत्री देवेंद्र सिंह बबली भी मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शनिवार को करनाल जिले को बड़ी सौगात देते हुए 109 करोड़ की 21 परियोजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास किया। इस अवसर पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि यह करनाल के लिए बड़े हर्ष की बात है कि 21 परियोजनाओं में सबसे बड़ी परियोजना नगर परिषद के भवन के शिलान्यास की है। इस नए भवन को साढ़े 35 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जाएगा। इस अवसर पर विकास एवं पंचायत मंत्री देवेंद्र सिंह बबली भी मौजूद रहे।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि करनाल में पश्चिमी यमुना नहर व नरवाना लिंक नहरों के बीच एक बड़ा क्षेत्र वीरान पड़ा रहता था। इस स्थल पर पार्क का निर्माण करके इसे रमणीक स्थल बनाया गया है। इससे करनाल के वार्ड नंबर-17,18,19,20 के लोगों को घूमने व व्यायाम आदि की सुविधा मिलेगी। इस स्थान को 7 करोड़ 28 लाख रुपये की लागत से तैयार किया गया है। इसी तरह करनाल जिले के अलग-अलग विधानसभा क्षेत्रों से जुड़ी परियोजनों के शिलान्यास व उद्घाटन किए गए हैं। इसमें नीलोखेड़ी विधानसभा की सबसे अधिक 12 परियोजनाओं, अंसध की 2, करनाल की 3, घरौंडा की 2 व इंद्री की 2 परियोजनाएं शामिल हैं।

 

48 कोस के तीर्थों का चरणबद्ध तरीके से किया जा रहा जीर्णोद्वार

मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा भगवान श्री कृष्ण की धरती मानी जाती है, जहां उन्होंने दिव्य ग्रंथ गीता का उपदेश दिया। 48 कोस के तीर्थों का चरणबद्ध तरीके से जीर्णोद्वार किया जा रहा है। इन स्थानों की महाभारत काल से जुड़ी बहुत सी यादें व कहानियां आज भी सुनाई जाती हैं। इनसे जुड़ी अलग-अलग समस्याओं जैसे रास्ता, सरोवर का जीर्णोद्वार, शौचालय आदि को दूर किया जा रहा है।

इस भूमि को मोक्ष भूमि भी कहा जाता है। पिहोवा में पिंडदान के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा सरकार ने गीता जयंती महोत्सव का 2016 से विस्तार किया और अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव मनाना शुरू किया। आज देश ही नहीं बल्कि विदेशों से गीता जयंती महोत्सव को मनाने के न्योते आ रहे हैं। आगामी सितंबर महीने में कनाडा में अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव मनाया जाएगा। इसी तरह आस्ट्रेलिया से भी गीता जयंती महोत्सव मनाने के लिए डिमांड आई है।

 

हरियाणा में बिजली की कोई कमी नहीं

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा में बिजली की कोई कमी नहीं है। म्हारा गांव-जगमग गांव योजना के तहत आज 24 घंटे बिजली दी जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रमंडल खेलों में मेडल जीतकर लाने वाले खिलाड़ियों को खेल पॉलिसी के मुताबिक ईनाम व अन्य लाभ दिए जाएंगे। कार्यक्रम के उपरांत मुख्यमंत्री ने पश्चिमी यमुना नहर व नरवाना लिंक नहरों के बीच बनाए गए पार्क में त्रिवेणी भी लगाई।

 

इन परियोजनाओं का किया उद्घाटन

– 33 के.वी. सब-स्टेशन, ठरी – 4 करोड़ 48 लाख रुपये

– 33 के.वी. सब-स्टेशन, चकदा – 4 करोड़ 29 लाख रुपये

– 33 के.वी. सब-स्टेशन, गोंदर – 5 करोड़ 43 लाख रुपये

– 33 के.वी. सब-स्टेशन, खानपुर – 4 करोड़ 35 लाख रुपये

– 33 के.वी. सब-स्टेशन, गांगर – 3 करोड़ 85 लाख रुपये

– घरौंडा फुरलक रोड को चार मार्गी बनाया गया और सुदृढ़ करने में 9 करोड़ 32 लाख 45 हजार रुपये

– राजकीय महाविद्यालय सेक्टर-14 के बहुउद्द्शीय हाल बनाया गया इसकी लागत 6 करोड़ 88 लाख 72 हजार रुपये

– तरावड़ी बस अड्डा- 3 करोड़ 6 लाख 98 हजार रुपये

– गांव बहलोलपुर के गुरु पराशर तीर्थ स्थल में विभिन्न विकास कार्य- 89 लाख 90 हजार रुपये

– गांव बस्तली में महर्षि वेद व्यास तीर्थ स्थल के नवीनीकरण का कार्य – 55 लाख 91 हजार रुपये

– करनाल स्मार्ट सिटी मिशन के चरण 1 और 2 के तहत पश्चिमी यमुना नहर का विकास कार्य – 7 करोड़ 28 लाख रुपये

– माजरा रोडान में खेल स्टेडियम का उद्घाटन – 515.05 लाख रुपये

– समाना बाहु में खेल स्टेडियम का उद्घाटन – 462.70 लाख रुपये

 

मुख्यमंत्री ने इन परियोजनों का किया शिलान्यास

– गांव बरसत में एसबीआर तकनीक पर आधारित 2.50 एमएलडी का एसटीपी निर्माण- 7 करोड़ 28 लाख रुपये

– सोमतीर्थ का जीर्णोद्वार एवं निर्माण – 1 करोड़ 12 लाख 42 हजार रुपये

– अक्षयवट तीर्थ का जीर्णोद्वार एवं निर्माण – 1 करोड़ 1 लाख 45 हजार रुपये

– कोशकी तीर्थ का जीर्णोद्वार एवं निर्माण – 1 करोड़ 7 लाख 37 हजार रुपये

– वामनक तीर्थ का जीर्णोद्वार एवं निर्माण – 1 करोड़ 11 लाख 63 हजार रुपये

– आहन तीर्थ का जीर्णोद्वार एवं निर्माण – 1 करोड़ 36 लाख 89 हजार रुपये

– ब्रह्म तीर्थ का जीर्णोद्वार एवं निर्माण – 96 लाख 78 हजार रुपये

– जिला परिषद के भवन का निर्माण – 35 करोड़ 62 लाख 18 हजार रुपये

 

 

Show More
Back to top button