हरियाणा

बम: हरियाणा में बेगना नदी किनारे जंगल में मिले 232 बम शैल

बम: हरियाणा में बेगना नदी किनारे जंगल में मिले 232 बम शैल

अंबाला जिले में शहजादपुर कस्बे के गांव मंगलोर के साथ लगती बेगना नदी किनारे जंगल में लगभग 232 पुराने बम शैल का जखीरा मिलने से इलाके में सनसनी फ़ैल गयी है। जिसके बाद पुरे इलाके को सील कर दिया गया। सूचना मिलते ही थाना प्रभारी शहजादपुर राजेश कुमार टीम के साथ मौके पर पहुंचे और उच्चाधिकारियों व बम निरोधक दस्ते को सूचना दी। बम निरोधक दस्ते ने मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल शुरू की।

 

सूत्रों के मुताबिक वन विभाग के रखवाले हरकिरत ने शुक्रवार को जंगल में पड़े प्लास्टिक के कट्टों से ढके मोटे-मोटे लोहे के पुराने टुकड़ों को देखा, जिसकी सूचना उसने अपने अधिकारियों को दी। इसके बाद वन विभाग के अधिकारियों ने पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर देखा तो उन्हें बम होने का संदेह हुआ। इस पर थाना प्रभारी शहजादपुर राजेश कुमार ने इसकी सूचना उच्चाधिकारियों को दी। साथ ही बम निरोधक दस्ते को भी मौके पर बुलाया गया। सूचना मिलते ही बम निरोधक दस्ता मौके पर पहुंचा। जांच करने पर पता चला है कि यह पुराने जंग लगे हुए बम शैल। जिनको प्लास्टिक के पुराने थैलों के नीचे रखे थे, जिनमें से कुछ बाहर निकल गए थे। बम डिस्पोजल दस्ते ने सावधानी से सभी बम शैल को बाहर निकाला, जिसके बाद इसकी गिनती की गई। बम डिस्पोजल दस्ते ने जंगल में पड़े कट्टों की जांच की।

बम: हरियाणा में बेगना नदी किनारे जंगल में मिले 232 बम शैल

जांच के दौरान ही दस्ते को 232 आर्टिलरी सैल जब्त किए गए। बरामदगी के बाद सभी सैल की गहनता से जांच की गई। अब इन सैल को भारतीय सेना के अधिकारियों को सौपे जाने की कार्रवाई चल रही है। जंगल में कैसे पहुंचे, चल रही है जांच एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा ने बताया कि भारी मात्रा में ये सैल जंगल तक कैसे पहुंचे इसकी जांच चल रही है। जांच के दौरान ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। इसके लिए आसपास के ग्रामीणों से भी पूछताछ की जाएगी। उन्होंने बताया कि मामले को लेकर पुलिस ने एक्सप्लोसिव एक्ट के तहत एक केस दर्ज किया गया है। मामले में अगर किसी की संलप्तिता पाई गई तो उसके खिलाफ ठोस कार्रवाई की जाएगी। जब्त किए गए बम सैल पुराने बताए जा रहे हैं। इस गंभीर मामले पर अब पुलिस भी गंभीरता से जांच कर रही है।

Back to top button