Thursday, December 9, 2021
HomePoliticalहरियाणा यूथ कांग्रेस चुनाव में हुड्डा खेमे का रहा दबदबा

हरियाणा यूथ कांग्रेस चुनाव में हुड्डा खेमे का रहा दबदबा

हरियाणा यूथ कांग्रेस के चुनाव में पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा गुट का दबदबा रहा है । युवा टीम में चुने गए नेताओं में से अधिक सांसद दीपेंद्र हुड्डा के खेमे के हैं। ऑनलाइन हुए चुनाव में प्रदेशाध्यक्ष पद के लिए हुड्डा समर्थक दिव्यांशु बुद्धिराजा ने दो लाख वोटों का बहुमत लेकर सबसे आगे हैं। ऐसे में साक्षात्कार प्रक्रिया के बाद उनका प्रदेशाध्यक्ष बनना तय है। प्रदेश अध्यक्ष पद के लिए चुने गए 6 में से पांच उम्मीदवार दीपेंद्र हुड्डा खेमे से हैं। इसी प्रकार, 26 जनरल सेक्रेटरी में से 21 और 31 में से 24 जिलाध्यक्ष पदों पर दीपेंद्र खेमे की जीत हुई है। इसी तरह 90 में से लगभग 75 विधानसभा में दीपेंद्र समर्थकों ने जीत दर्ज की है.

 

कांग्रेस में युवा संगठन नेतृत्व का चयन वोटिंग के जरिये होता है। पिछले कई सालों से दीपेंद्र हुड्डा समर्थक उम्मीदवार ही चुनाव जीतते आ रहे हैं। इस बार भी हुड्डा टीम दूसरे खेमों पर भारी पड़ी। युवक कांग्रेस की वेबसाइट पर बुधवार शाम को प्रदेश अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महासचिव, जिलाध्यक्ष व हलका प्रधानों के लिए हुए चुनाव के नतीजे घोषित कर दिए गए हैं।

आदमपुर व तोशाम हलकों में दीपेंद्र हुड्डा के समर्थक अध्यक्ष हलका प्रधान का चुनाव जीते हैं। रोहतक, सोनीपत, जींद, भिवानी, अंबाला, पानीपत व हिसार ग्रामीण आदि जिलों में एक तरफा हुड्डा खेमे का वर्चस्व रहा। दक्षिण हरियाणा के जिलों में भी दीपेंद्र हुड्डा की टीम ने परचम लहराया। एनएसयूआई से लेकर यूथ कांग्रेस की राजनीति में दीपेंद्र हुड्डा जबरदस्त प्रभाव रखते हैं। इस बार उन्हें चुनौती देने के लिए रणदीप सुरजेवाला, कुमारी शैलजा, किरण चौधरी जैसे तमाम नेताओं ने उम्मीदवार को चुनावी मैदान में उतारा था।

 

किसे कितने वोट मिले

कुल नौ लाख 24 हजार 273 युवाओं ने यूथ कांग्रेस के चुनावों में अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। पूरी चुनाव प्रक्रिया ऑनलाइन रही। वोटिंग भी ऑनलाइन हुई। प्रदेशाध्यक्ष पद के लिए एक दर्जन से अधिक उम्मीदवार मैदान में थे। प्रदेश अध्यक्ष पद पर दिव्यांशु बुद्धिराजा सबसे अधिक 4.90 लाख वोट लेकर आगे रहे। वहीं कुमारी सैलजा व रणदीप सुरजेवाला के समर्थक कृष्ण सातरोड को दो लाख 94 हजार 99 वोट व मयंक चौधरी को 40862 हजार मतों से ही संतोष करना करना पड़ा। कृष्ण सातरोड व मयंक चौधरी का उपाध्यक्ष बनना तय है। इस बारे में दिव्यांशु बुद्धिराजा ने कहा कि अब हरियाणा में युवाओं की आवाज को और मजबूत किया जाएगा।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments