Thursday, December 9, 2021
HomeHaryanaपरिवार पहचान पत्र के माध्यम से सरकार की हर योजना पहुंचेंगी अब...

परिवार पहचान पत्र के माध्यम से सरकार की हर योजना पहुंचेंगी अब पात्र व्यक्ति तक

हरियाणा सरकार का महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट परिवार पहचान पत्र (पीपीपी)अन्त्योदय की भावना के साथ जरूरतमंद लोगों को योजनाओं का लाभ पहुंचाने का सशक्त माध्यम है। यह जानकारी डीसी यशेन्द्र सिंह ने दी। डीसी ने कहा कि पीपीपी प्रोजेक्ट को लागू करने वाला हरियाणा देश का पहला प्रदेश है ।डीसी यशेन्द्र सिंह ने कहा कि परिवार पहचान पत्र के माध्यम से सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लिया जा सकता है। सभी को परिवार पहचान पत्र बनवाना चाहिए ताकि भविष्य में सरकार की योजनाओं का लाभ जरूरतमंद को प्रभावी रूप से मिल सके।

 

उन्होंने कहा कि इस योजना के अंतर्गत हरियाणा के प्रत्येक परिवार को 14 अंकों का विशिष्ट पहचान पत्र प्रदान किया जा रहा है। जिसके माध्यम से यह सुनिश्चित किया जाएगा कि सरकार द्वारा प्रदान किए जाने वाली सभी सेवाओं और योजनाओं का लाभ हरियाणा के प्रत्येक नागरिक तक पहुंच रहा है या नहीं। यह परिवार पहचान पत्र संयुक्त तथा अलग परिवारों के लिए तैयार किया जाएगा। डीसी ने कहा कि सरकार आमजन की सुविधाओं के लिए कई प्रकार की योजनाओं व नीतियों पर निरंतर कार्य कर रही है। सरकार की प्राथमिकता सदैव आमजन को विभिन्न सुविधाएं मुहैया करवाना है। इसी कड़ी में सरकार द्वारा परिवार पहचान पत्र नामक दस्तावेज बनाने के लिए मुहिम चलाई जा रही है ताकि आमजन को परिवार पहचान पत्र के माध्यम से सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ मिल सके।

 

उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा पैंशन प्राप्त करने वाले सभी लाभपात्रों के लिये परिवार पहचान पत्र आवश्यक कर दिया गया है और वे पेंशन के लिये तभी आवेदन कर सकते हैं जब उनका परिवार पहचान पत्र बना होगा। ऐसे में सभी लाभपात्र पेंशन का आवेदन करने से पहले अपने क्षेत्र के नजदीकी सीएससी सेंटर व सरल केंद्र में जाकर परिवार पहचान पत्र बनवाएं। उन्होंने कहा कि इसके साथ-साथ सरकार द्वारा एक समर्पित पोर्टल हरियाणा परिवार पहचान पत्र बनवाने के लिए संचालित किया जा रहा है। इस पोर्टल के माध्यम से व्यक्ति घर बैठे अपना पहचान पत्र बनवाने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

डीसी यशेन्द्र सिंह ने बताया कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा जन कल्याण के लिये विभिन्न योजनायें चलाई जा रही है, जिनमें वृद्धावस्था सम्मान भत्ता, विधवा/निराश्रित महिलाओं को वित्तीय सहायता, दिव्यांग पेंशन, लाडली सुरक्षा भत्ता, बोना भत्ता, मंदबुद्धि बच्चों को वित्तीय सहायता इत्यादि शामिल है। जो लाभपात्र उपरोक्त पेंशन योजनाओं का लाभ ले रहे है, वह सभी लाभपात्र अपने क्षेत्र के नजदीकी सीएससी सेंटर व अटल सेवा केंद्र में जाकर परिवार पहचान पत्र बनवाकर निरंतर सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठा सकते है।

 

 

 

 

 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments