Thursday, December 9, 2021
HomeHaryana`वन ब्लॉक वन प्रोडक्ट` योजना के तहत हर गांव में लगेगी फैक्ट्री...

`वन ब्लॉक वन प्रोडक्ट` योजना के तहत हर गांव में लगेगी फैक्ट्री और अब घर बैठे मिलेगी नौकरी

हरियाणा राज्य भारत में बनी कुल कारों का 67 फीसदी उत्पादन करता है। लगभग 60% मोटरसाइकिल और 50% ट्रैक्टर हरियाणा राज्य में ही बनते हैं। इसके अलावा घरों में इस्तेमाल होने वाले करीब 50 फीसदी रेफ्रिजरेटर भी राज्य में बनते हैं। बासमती चावल के कुल निर्यात का लगभग 60% हरियाणा राज्य से भी होता है। राज्य सरकार ने अपने उत्पादों को राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ावा देने और मान्यता देने के लिए एक नई वन ब्लॉक वन प्रोडक्ट योजना तैयार की है। नई हरियाणा वन ब्लॉक वन प्रोडक्ट स्कीम 2021 स्थानीय रूप से निर्मित उत्पादों की बिक्री के लिए बाजार उपलब्ध कराने में भी मदद करेगी।

 

 

हरियाणा सरकार ने वन ब्लॉक वन उत्पाद योजना को सिरे चढाने की शुरुआत भिवानी जिले के आदर्श गाँव सुई से की है। दुष्यंत चौटाला ने सुई ग्रामवासियों के सामने प्रस्ताव रखा कि वह अपने गाँव में वन ब्लॉक वन उत्पाद योजना के तहत प्रोजेक्ट लगवा सकते है। ताकि क्षेत्र के स्थानीय उत्पाद को नई पहचान मिले। उन्होंने कहा कि इसके लिए प्रदेश सरकार यहां 50 एकड़ में औद्योगिक क्लस्टर स्थापित करने को तैयार है जोकि वन प्रोडक्ट 1 ब्लॉक योजना के तहत बनने वाला पहला क्लस्टर होगा। वे स्वप्रेरित आदर्श ग्राम योजना के तहत शिक्षित आदर्श गांव सुई के उद्घाटन समारोह में बोल रहे थे। इस कार्यक्रम में भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शिरकत की।

 

 

प्रदेश सरकार की प्राथमिकता

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है कि राज्य में ज्यादा से ज्यादा उद्योगों को बढ़ावा दिया जाए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार वन डिस्ट्रिक वन प्रोडक्ट योजना से एक कदम आगे बढ़ाते हुए ब्लॉक स्तर पर वन ब्लॉक वन प्रोडक्ट योजना लेकर आ रही है। इससे छोटे उद्योगों को मजबूती मिलेगी। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेश के 140 खंडों को औद्योगिक विजन के साथ जोड़कर वन ब्लॉक वन प्रोडक्ट योजना के तहत लघु उद्योग स्थापित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत हरियाणा सरकार आदर्श गांव सुई में पहला औद्योगिक क्लस्टर लगाना चाहती है। डिप्टी सीएम ने कहा कि सूक्ष्म,लघु और मध्यम उद्योगों के लिए सुविधाओं से लैस यह वन स्टॉप सेंटर होगा। जहां पैकेजिंग, शिपिंग आदि की सुविधाएं होंगी और इससे यहां के छोटे उद्यमी गांव में बनने वाले उत्पादों को विदेश में भी बेच सकेंगे।

 

 

शुरू की गई आदर्श ग्राम योजना

कार्यक्रम में उपमुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में यह भी कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री मनोहर लाल के मार्गदर्शन में हरियाणा में शुरू की गई आदर्श ग्राम योजना के तहत गांव को विकसित करने के लिए आवश्यक विकास कार्य करवाए गए हैं ।उन्होंने कहा कि सुई गांव निवासी जिंदल परिवार द्वारा अपने गांव को गोद लेकर उसमें करवाए जा रहे विकास कार्य सराहनीय हैं और समाज के लिए एक अच्छी पहल है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जिंदल परिवार कि इसी पहल के आधार पर हरियाणा सरकार द्वारा सब प्रेरित आदर्श गांव योजना भी शुरू की गई है।

 

युवाओं को घर बैठे मिलेगी नौकरी

प्रदेश सरकार का मानना है कि इस योजना के बाद जहां प्रदेश के गांव में बने उत्पादों को दुनिया में पहचान मिलेगी। वही रोजगार की दिशा में यह एक क्रांति साबित होगी। इस योजना के शुरू होने के साथ ही प्रदेश के बेरोजगार युवाओं को घर बैठे नौकरी मिलेगी। इसीलिए ग्रामीण आगे आकर अपने  हुनर को नई पहचान देने के काम में जुट जाएं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments