Sunday, September 19, 2021
advt

हमेशा गैर हाजिर रहने पर वन स्टॉप सेंटर की प्रशासक को बर्खास्त करने के एडीसी ने दिए निर्देश

advt.

रेवाड़ी, 20 अक्तूबर। एडीसी राहुल हुड्डा की अध्यक्षता में आज जिला सचिवालय सभागार में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत जिला टास्क फोर्स की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में एडीसी ने पीसी-पीएनडीटी, लिंगानुपात, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के तहत जागरूकता की विस्तार से समीक्षा की।
एडीसी राहुल हुड्डा ने कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना को बढ़ावा देने के लिए महिला एंव बाल विकास जागरूकता कार्यक्रम चलाएं ताकि अधिक से अधिक महिलाओं तक इसकी जानकारी मुहैया हो सकें। उन्होंने कहा कि जिला में उन गांवों की पहचान करें जिनका लिंगानुपात 800 से नीचे है, उन गांवों पर ज्यादा फोकस करें।
एडीसी ने कहा कि वन स्टॉप सैंटर के प्रति गांवों और शहरी क्षेत्र में अभी लोगों को पूरी तरह से जानकारी नहीं है। इसलिए महिला स्वयं सहायता समूह, आंगनबाड़ी केंद्रों एवं आशा वर्करों द्वारा जिला में चलाए जा रहे वन स्टॉप सैंटर के बारे में ग्रामीणों को बताया जाएं। यह सैंटर असहाय व पीडि़त महिलाओं की मदद के लिए बनाया गया है। एडीसी ने बैठक में पीओआईसीडीएस को निर्देश दिए कि वन स्टॉप सैंटर की प्रशासक कार्यालय से हमेशा नदारद रहती है, इसलिए उसकी सेवाओं को समाप्त किया जाएं तथा वन स्टॉप सैंटर में उन्हीं को रखा जाएं जो सही ढ़ंग से कार्य करें।
बैठक में महिला एंव बाल विकास कार्यक्रम अधिकारी संगीता यादव ने महिला एंव बाल विकास द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी।
बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी राजेश कुमार, डीडीए आरके श्योराण, मोर्निंग ग्लोरी की प्रधान सोलानी सिंंगला, डीसीडब्ल्यूओ दीपिका, एसएमओ डॉ चितरंजन, डॉ अशोक, एनजीओ प्रतिनिधी दीपा भारद्वाज, डब्ल्यूसीडी शालू, पुष्पा, सुमन, दीपिका सैनी मौजद रहें।

advt.

Related Articles

46,334FansLike
11,640FollowersFollow
1,215FollowersFollow
98,018SubscribersSubscribe
Advt.

Latest Articles