Friday, January 21, 2022
HomeAdministrationआज खरीद ना होने पर किसानों में रोष , 27 नवंबर तक...

आज खरीद ना होने पर किसानों में रोष , 27 नवंबर तक बढ़ाई खरीद प्रकिया

आज खरीद ना होने पर किसानों में रोष , 27 नवंबर तक बढ़ाई खरीद प्रकिया

हरियाणा में एक अक्टूबर से 15 नवंबर तक बाजरे की उपज खरीने का सरकार ने ऐलान किया हुआ था और मंडियों में रोस्टर वाइज खरीद प्रकिया की भी गई लेकिन काफी किसानों का उपज बेचने के लिए नंबर तक नहीं आया . सोमवार को किसान ट्रेक्टर ट्रोली में भरकर बाजरा लेकर मंडी पहुंचे जहाँ गेट पर किसानों के टोकन तो काट दिए गए लेकिन दिनभर बाजरा नहीं ख़रीदा गया .

 

दोपहर में किसानों ने डीसी यशेंद्र सिंह ने बाजरे की खरीद किये जाने की फ़रियाद लगाईं . जिसके बाद डीसी यशेंद्र सिंह ने कहा की अब 27 नवम्बर तक बाजरे की खरीद जारी रहेगी . लेकिन आज मंडी में आया बाजरा किसान कहाँ लेकर जाएँ . इसलिए देर शाम किसान और आढ़ती दौबारा डीसी ऑफिस पहुँच गए और कहा की मौसम ख़राब है रात भर बाजरा खुले में पड़ा रहेगा . वहीँ आढ़तियों ने उठान में तेजी लायें जाने की मांग की . जिलाधीश ने किसानों को आश्वासन दिया है की कल सबसे पहले आज मंडी आयें किसानों का बाजार ख़रीदा जाएगा . वहीँ उठान में तेजी लायें जाने इ निर्देश भी जिलाधीश ने दिए है .

आपको बता दें कि 2150 रूपए के रेट पर हैफेड और वेयरहाउस एजेंसी के मार्फत खरीद प्रकिया की जा रही है और केवल उन्ही किसानों की उपज खरीदी जा रही है जिन्होंने मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराया हुआ था. मंडी में जब से खरीद प्रकिया शुरू हुई है तब से ही उठान की समस्या बनी हुई है . जिस ट्रांसपोर्टर को उठान का कांट्रेक्ट दिया हुआ है वो मनमानी कर लेट लतीफी कर रहा है . ट्रांसपोर्टर की मनमानी के चलते जिलाधीश ने एक दिन पहले ही ट्रांसपोर्टर पर 95 हजार रूपए का जुर्माना भी किया था .

 

बहराल कल से किसानों कि बाजरे की उपज फिर से 27 नवम्बर तक खरीद शुरू हो जायेगी . लेकिन बड़ी संख्या में खुले में बाजरे की उपज पड़ी हुई है . जिसके कारण आढतियो को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है . और मौसम ख़राब होने के कारण ये परेशानी और बढ़ गई है .

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments