Thursday, January 20, 2022
HomeAdministrationस्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) में रेवाड़ी जिला देश के टॉप-10 में हुआ...

स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) में रेवाड़ी जिला देश के टॉप-10 में हुआ शॉर्टलिस्ट

 जल शक्ति मंत्रालय भारत सरकार द्वारा लोक प्रशासन में उत्कृष्टता के लिए  प्रधानमंत्री अवार्ड में देश के ज़िलों में  रेवाड़ी ज़िला टॉप-10 में जनभागीदारी बनकर स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) कैटेगरी में शार्ट लिस्ट हुआ है। फाइनल रिजल्ट का अभी इंतजार है। 11 सितंबर को स्क्रीन कमेटी के सामने डीसी यशेन्द्र सिंह प्रेजेंटेशन दे चुके है, फाइनल रिजल्ट में पहले या दूसरे नंबर पर रेवाड़ी आता है तो रेवाड़ी के लिए गौरव की बात होगी।
कर्म को सफलता का राज मानने वाले डीसी यशेन्द्र सिंह के नेतृत्व में रेवाड़ी जिला को एक ओर उपलब्धि प्राप्त होने जा रही है। उपायुक्त यशेन्द्र सिंह अपने उत्कृष्ट प्रशासनिक कार्यशैली के लिए जाने जाते है। प्रशासन से जुड़ी किसी भी प्रकार की जिम्मेदारी को बखूबी निभाने में उन्हें महारत हासिल है। उनकी नजर में कर्म ही सर्वाधिक प्रधान है।
 यशेन्द्र सिंह ने हरियाणा के रेवाड़ी में सार्वजनिक भागीदारी बढ़ाने की दिशा में उत्कृष्ट कार्य किया है, जिससे रेवाड़ी के प्रशासन को लोकप्रिय और अत्यधिक कुशल बनाया जा सका। देशभर के 724 जिलों में फेम इंडिया-एशिया पोस्ट सर्वे 2020 के  आधार पर 50 लोकप्रिय अधिकारियों में डीसी यशेन्द्र सिंह को शख्सियत श्रेणी में प्रमुख स्थान प्राप्त हुआ। फरवरी-2020 में हरियाणा सरकार द्वारा आयोजित सक्षम परीक्षा में रेवाड़ी को रैंक एक हासिल हुआ। इतना ही नहीं उनके नेतृत्व में हरियाणा के सार्वजनिक सेवाएं देने में अंत्योदय सरल में भी रेवाड़ी पहले नंबर पर रहा।
बतौर जिलाधीश यशेन्द्र सिंह ने विधानसभा चुनाव-2019 के दौरान आम जनता को जागरूक करने में अहम भूमिका निभाई और उन्हें बेस्ट परफॉमेंस स्टेट अवार्ड से सम्मानित किया गया। उनकी प्रशासनिक सूझबूझ की वजह से रेवाड़ी में सडक़ हादसों में करीब 40 प्वाइंट की कमी आयी और लिंगानुपात 2016 में 870 थी जो 2020 में बढक़र अब तक 921 हो गई है। यशेन्द्र सिंह ने रेवाड़ी जिले में युवाओं में अनुशासन और सेहतमंद जीवन के लिए स्वस्थ नागरिक, स्वस्थ राष्ट्र रन फॉर यूथ राष्ट्रीय युवा दिवस मैराथन का आयोजन करवाया, जिसमें करीब 50 हजार से अधिक लोगों ने भाग लिया। यशेन्द्र सिंह की कार्यशैली की बदौलत रेवाड़ी को राष्ट्रीय स्तर पर ग्रामीण स्वच्छता अवार्ड 2019 मिला है। कर्म को पूजा मानने वाले यशेन्द्र सिंह ने कोरोना काल में अपनी जिम्मेदारियों को बेहतर तरीके से अंजाम तक पहुंचाया। डीसी यशेन्द्र सिंह ने 25 हजार प्रवासी मजदूरों के घर वापसी को सुनिश्चित किया और उनके खाने व चिकित्सा आदि की व्यवस्था करवाई। प्रदेश के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य और सीएम मनोहर लाल भी उनके कार्यो की तारीफ कर चुके है।
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments