Thursday, January 20, 2022
HomeHaryanaऑनलाइन रजिस्ट्री करने में हरियाणा देश का पहला राज्य - दुष्यंत चौटाला

ऑनलाइन रजिस्ट्री करने में हरियाणा देश का पहला राज्य – दुष्यंत चौटाला

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला आज धारूहेड़ा में अपने एक कार्यकर्त्ता राव मंजीत जेलदार  के घर लंच के लिए पहुँचे. साथ ही उन्होंने जनता की समस्याएं भी सुनी. दुष्यंत चौटाला ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा की ऑनलाइन रजिस्ट्री कराने में हरियाणा देश का पहला प्रदेश है.  और अब हरियाणा को देखकर तेलांगना भी इस ऑनलाइन प्रणाली को अपनाने जा रहा है . उन्होंने कहा की तहसील के काम ऑनलाइन होने से लोगों को तहसील के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे और ना ही एनओसी के लिए परेशान होना पड़ेगा , क्योंकि उन्होंने 15 दिनों में एनओसी जारी करने के लिए बाध्य कर दिया है. आपको बता दें की ऑनलाइन सिस्टम होने से कर्मचारियों को समझने में थोड़ी परेशानी जरुर आ रही है . जिसके कारण तहसील में ज्यादा रजिस्ट्री भी नहीं हो पा रही है. दुष्यंत चौटाला ने कहा की नया सिस्टम अपनाने में दिक्कत आती है लेकिन वो हर सप्ताह कर्मचारियों की टेनिंग करा रहे है ताकि आगे दिक्कत ना आये.

कब शुरू होगा एम्स का निर्माण !

इसके साथ ही दुष्यंत चौटाला ने मनेठी एम्स पर कहा की ई भूमि के जरिये अभी जमीन की उपलब्धता पूरी कराने के लिए काम चल रहा है ..जैसे ही जमीन आवश्यकता पूरी हो जायेगी ..जमीन केंद्र सरकार को सौंप दी जायेगी. आपको आपको बता दें मनेठी और माजरा गाँव के ग्रामीणों ने आवश्यकता से दुगनी जमीन ई भूमि पोर्टल के जरिये सरकार को देने पर सहमती जता दी है .लेकिन बीच की जमीन का कुछ हिस्सा किसान देने के लिए राजी नहीं हुए है ..यही वजह की जरूरत से दुगनी जमीन मिलने के बावजूद एम्स के निर्माण में अड़चन आ रही है . मनेठी एम्स संघर्ष समिति बार -बार मांग कर रही है जल्द एम्स का निर्माण शुरू कराया जाए ..क्योंकि उन्होंने अपनी मर्जी से जमीन सरकार को दे दी है . ऐसे में जो कुछ किसान जमीन नहीं दे रहे है उनसे सरकार जमीन अपने तरीके से लेकर निर्माण का काम शुरू कराये .

राजस्थान से आने वाले दूषित पानी से कब निजात मिलेगी !

दुष्यंत चौटाला के सामने धारूहेड़ा के सेक्टर चार  में राजस्थान के भिवाड़ी से आने वाले दूषित पानी की समस्या भी पहुंची   …जिसपर उन्होंने कहा की सबंधित अधिकारीयों से कहेंगे की राजस्थान के अधिकारीयों से बातचीत करके समस्या का हल करें …आपको बता दे की राजस्थान से आने वाले दूषित पानी की समस्या कई वर्षों से है और वर्षों से यही आश्वाशन दिया जा रहा है ..लेकिन समाधान अब तक कुछ हुआ नहीं है …दूषित पानी का मुद्दा एनजीटी में भी पहुँचा लेकिन फिर भी आजतक हालात जस के तस है ..

धारूहेड़ा पहुंचे दुष्यंत चौटाला से मिलने के लिए उनके समर्थक भी उनसे मिले पहुँच गए ..और कोरोना काल होने के बावजूद सामजिक दुरी का किसी ने ध्यान नहीं रखा .

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments