ई-सचिवालय पोर्टल के माध्यम से डीसी यशेन्द्र सिंह ने सुनी शिकायतें

सूचना प्रौद्योगिकी का अधिकतम उपयोग करके पारदर्शी और सहज तरीके से लोगों को नागरिक केंद्रित सेवाएं प्रदान करने के लिए ई-सचिवालय पोर्टल की शुरूआत की गई है। इसी कड़ी में उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने आज दूसरी बार  ई-सचिवालय के माध्यम से आई हुई दो शिकायतों को सुना और उन्हें हल करने के अधिकारियों को निर्देश दिए।
उपायुक्त यशेन्द्र सिंह द्वारा ई-सचिवालय पोर्टल के माध्यम से दो अपॉइंटमेंट लिए गए, जिनमें प्रमोद कुमार निवासी वार्ड नंबर- 2 बावल तथा खर्शीदनगर निवासी नितीश कुमार शामिल रहें। प्रमोद कुमार द्वारा रखी गई शिकायत कि बावल के वार्ड नंबर-2 में इंट्रलोकिग्ंस टाईल का कार्य किया जा रहा है, हम चाहते है कि यह सीसी रोड बनें, लेकिन नपा सचिव इसके लिए तैयार नहीं है। शिकायत को सुनते हुए डीसी ने कहा कि नपा सचिव से इस बारे में रिपोर्ट लेकर ही आगे की कार्यवाही की जाएगी। दूसरी शिकायत खुर्शीदनगर निवासी नितीश कुमार की शिकायत में उनके गांव में पानी की निकासी का प्रबंधन नहीं है, इसके लिए पंचायत विभाग द्वारा नाली बनवाई जाएं, इस पर डीसी यशेन्द्र सिंह ने जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी को इसके लिए निर्देश दिए कि खुर्शीदनगर की जा पानी की निकासी होनी है उस पर तुरंत कार्य करें।

डीसी ने कहा कि कोविड-19 के कारण इस मुश्किल समय में लोगों को कार्यालयों में नहीं जाना पड़े, इसके लिए वे घर रहकर अपनी समस्याओं के समाधान के लिए इस पोर्टल का इस्तेमाल करें। उन्होंने कहा कि ई-सचिवालय पोर्टल के माध्यम से नागरिक घर बैठे ही आमजन अपनी समस्या का निवारण व सेवाओं का लाभ ले सकता है। उपायुक्त ने कहा कि ई-सचिवालय के माध्यम से कोई भी व्यक्ति अधिकारियों के साथ बैठक के लिए ऑनलाइन ‘अपॉइंटमेंट’ ले कर अपने मोबाइल से वीडियो कान्फ्रेंस के जरिए बात कर सकता है और उसे कार्यालय आने की जरूरत नहीं है।

यशेन्द्र सिंह ने बताया कि ई-सचिवालय में कोई भी व्यक्ति अपनी शिकायत पोर्टल पर जाकर अपलोड कर सकता है। शिकायतकर्ता को पहचान के लिए आधार कार्ड या फैमिली पहचान पत्र अपलोड करना होगा और शिकायत का विवरण देना होगा। इसके बाद एसएमएस के माध्यम से ऑनलाइन बैठक के लिए अपॉइंटमेंट दिया जायेगा।
डीसी ने बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल द्वारा उपायुक्त एवं विभिन्न विभागों के प्रमुखों के साथ ऑनलाइन बैठकों के माध्यम से लोगों की मदद के लिए एक डिजिटल मंच ई-सचिवालय पोर्टल की शुरूआत की गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: